(प्रतीकात्मक तस्वीर)
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

    • बोगस काम का लग रहा आरोप 
    • खिड़की का स्लैब ढहने से मजदूर घायल

    आसेगांव. आसेगांव पीएचसी प्रांगण में शवविच्छेदन गृह निर्माण का कार्य युद्धस्तर पर शुरू है. इस निर्माण कार्य में बोगस कार्य किया जा रहा है. इस बात की गवाही स्वयं निर्माण कार्य ही देने लगा है. 14 मई को निर्माण कार्य में खिड़की वाली साइड पर सज्जे वाला स्लैब गिरने से एक मजदूर घायल होने की घटना घटी. जिस ने इस पूरे कार्य की पोल खोल दी है. जिससे ग्रामवासी इस कार्य को घटिया रुप से करने का आरोप संबंधितों पर लगा रहे है. 

    आसेगांव पीएचसी प्रांगण में जिप के माध्यम से 44 लाख रुपए की लागत से शव विच्छेदन गृह निर्माण को मंजूरी मिली है. जिस का कार्य दो माह से शुरू है. ठेकेदार द्वारा घटिया रुप से कार्य करने का मामला स्लैब ढहने के रूप में सामने आया है. इस कार्य को पूरा करने तक जिला प्रशासन की विशेष निगरानी रहना जरूरी है. 

    ऐसे हुआ हादसा 

    निर्माण कार्य के दौरान कॉलम की सेंटिंग पट्टियां खोलने गया मजदूर अरबाज जब खिड़की के स्लैब पर चढ़कर पट्टियां खोल रहा था. उसी दौरान अचानक से खिड़की का स्लैब जमीन पर ढह गया. और मजदूर जमीन के बल नीचे गिरने से घायल हो गया. घायल अवस्था में पहले मजदूर का उपचार संबंधित स्वास्थ्य केंद्र में किया गया. बाद में उचित उपचार हेतु मजदूर को वाशिम भेजा गया. 

    ठेकेदार समेत संबंधित विभाग का निर्माण कार्य पर ध्यान नहीं 

    शव विच्छेदन गृह का निर्माण कार्य दो माह पूर्व से शुरू है. इस कार्य का निर्माण किस तरह किया जा रहा है. इस की फिक्र किसी को नहीं है. काम किस तरह से किया जा रहा इसे देखने के लिए अब तक जिला प्रशासन से किसी भी अधिकारी की विजिट तक नहीं हो पाई है. जिससे जनता में मिलीभगत व मैनेजमेंट कर कार्य शुरू रहने की चर्चा जोरों पर है. आगे इस कार्य को लेकर किस तरह से सतर्कता बरती जाती है. इस पर सभी का ध्यान लगा हुआ है.