वन अधिकारी, लोक निर्माण के अधीक्षक अभियंता निवास से फिर चंदन चोरी

    यवतमाल. 15 दिनों पुर्व प्रादेशिक वनाधिकारी के निवासस्थान परिसर से चंदन के पेड चोरी होने की घटना के बाद फिर से वनसंरक्षक और लोकनिर्माण विभाग के अधिक्षक अभियंता के निवासस्थान परिसरों से 3 अगस्त को लाखों रुपए किंमत के चंदन पेडों की कटाई कर अज्ञात चोर उन्हे चुरा ले गए.इस घटना के बाद वनविभाग में हडकम्प मचा हुआ है.प्राप्त जानकारी के मुताबिक अज्ञात चोरों नें अधिक्षक अभियंता के निवास पर कार्यरत चौकीदार को तलवार दिखाकर धमकाया और इसके बाद यहां से अज्ञात चोर चंदन के पेड चुराए गए.

    प्राप्त जानकारी के मुताबिक स्थानिय मेडीकल चौक पर मुख्य वनसंरक्षक वसंत घुले का सरकारी निवासस्थान है, जहां पर बिती रात ज्ञात चोरों ने प्रवेश कर चंदन के पेड किंमत 1 लाख 30 हजार काटकर चुरा लिए इसके बाद लोकनिर्माण मंडल के अधिक्षक अभियंता के सरकारी निवास परिसर में घुसकर वहां से 2 लाख 60 हजार रुपयों के चंदन पेड चुराए.बताया जाता है की इससे पहले चंदन चोरों ने सरकारी अफसरों के निवासस्थान में चंदन चोरी करने के लिए रेकी की.

    प्राप्त जानकारी के मुताबिक सरकारी निवासस्थान परिसरों में लगे सीसीटीवी में कैमरों की दिशाएं घुमायी गयी, इसके अलावा कुछ स्थानों से सीसीटीवी चोरी होने की भी जानकारी सुत्रों ने दी है.इसी बीच 3 अगस्त को यवतमाल शहर पुलिस थाने में आत्माराम भोटूजी चव्हाण 55 निवासी देवीनगर लोहारा की शिकायत पर वनसंरक्षक सरकारी निवास्थान परिसर में चंदन पेड चोरी के मामलें में अज्ञात चोरों पर धारा 379 के तहत अपराध दर्ज कर लिया गया है.जबकी खबर लिखे जाने तक अधिक्षक अभियंता निवास से चंदन पेड चोरी के मामलें में शिकायत दर्ज नही की गयी थी.

    उल्लेखनिय है की वनविभाग और इसके वनाधिकारीयों पर जिले की वनसंपदा की सुरक्षा और रखरखाव की जिम्मेदारी है, लेकिन वनविभाग के अधिकारीयों के निवासस्थान परिसर में ही किंमती चंदन पेड सुरक्षीत नही है, तो फिर वनविभाग किस तरह वनों की सुरक्षा करता होंगा, एैसा सवाल इन घटनाओं के बाद उठाया जा रहा है.बता दें की यवतमाल शहर में विभीन्न सरकारी कार्यालयों और अफसरों के निवासस्थान परिसरों में महंगे पेड लगे है, जिनमें चंदन पेडों की बहुतायत है.लेकिन समय समय पर इन चंदन पेडों की चोरी की घटनाएं हो रही है.