Punjab Elections : Won't do election campaign for farmers' leaders of Punjab: Rakesh Tikait
File

    नई दिल्ली: लखीमपुर खीरी मामले को किसान संगठन लगातार योगी पर  योगी आदित्यनाथ पर हमलावर हैं। वह गृह राज्य राज्य मंत्री अजय सिंह टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा गिरफ़्तारी की मांग कर रहे हैं। इसी को लेकर आज दिल्ली में संयुक्त किसान मोर्चा ने पत्रकार वार्ता का आयोजन किया। जिसमें उन्होंने आने वाली 18 तारीख को देश भर में रेल रोको आंदोलन करने का ऐलान किया। वहीं जब उनसे लखीमपुर खीरी में भाजपा नेताओं की हत्या को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने विवादित बयान देते हुए उसे एक्शन का रिएक्शन बता दिया। 

    दरअसल, संयुक्त किसान मोर्चा शनिवार को लखीमपुर खीरी मामले पर आगे की कार्रवाई की जानकारी देने के लिए पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान जब उनसे लखीमपुर-खीरी में भीड़ द्वारा पिट-पिट कर तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या करने का सवाल पूछा गया। जिसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा, “देखो कैसा है जब जंगल में कोई जानवर खूंखार है तो एक्शन का रिएक्शन होता है। इसमें कोई प्लानिंग नहीं थी।”

    वहीं जब उनसे यह पूछ गया की क्या वह इसे अपराध नहीं मानते तो उन्होंने कहा, “मैं इसे अपराध नहीं मानता, और न ही वह हत्या है। यह एक एक्शन का रिएक्शन है।”

    ज्ञात हो कि, तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के दौरान एक दुर्घटना हो गई थी। जिसमें चार किसानों की मौत हो गई थी। वहीं कई घायल हुए थे। इसी दौरान हुई हिंसा में एक पत्रकार समेत चार लोगों को भी भीड़ ने पिट-पिट कर मार डाला था। मरने वालों में अजय मिश्रा का ड्राइवर हरिओम मिश्रा, भाजपा कार्यकर्ता शुभम  मिश्रा, एक और कार्यकर्ता था।