असम: बाढ़ से प्रभावित हुआ नेशनल हाईवे-31, स्थानीय लोगों ने मछली पकड़ने के लिए बिछाया जाल- देखें Video

    नई दिल्ली: असम इस साल भी बारिश के चपेट में है। राज्य के 28 जिले बाढ़ से प्रभावित हुए है। जहां, सड़कों और लोगों के घरों में घुटनों तक पानी भर चूका है। एक तरफ बाढ़ की वजह से वहां के लोगों का जीवन पूरा अस्त व्यस्त है। तो दूसरी तरफ कुछ लोग आपदा में अवसर ढूंढ रहे है। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में आप देख सकते है कि,राज्य के रंगिया के मोरंजना क्षेत्र में बाढ़ के पानी से की वजह से नेशनल हाइवे 31 पूरी तरह डूब  गया है। यहां  लोगों ने मछली पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया। बाढ़ की वजह से इस दौरान एक साइड की सड़क पर यातायात प्रभावित हो गया है। 

    बाढ़ की वजह से 55 लोगों की मौत

    असम के अलग-अलग हिस्सों में चार दिन से लगातार मूसलाधार बारिश जारी है। जिससे बढ़ की स्थिति बानी हुई है। कई प्रमुख नदियां उफान पर हैं।  असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के अनुसार, राज्य के 28 जिलों में इस साल 18.95 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।  बाढ़ और भूस्खलन की की वजह से राज्य में अब तक 55 लोगों को जान गंवानी पड़ी है।  

    पीएम मोदी ने लिया जायजा 

    पीएम मोदी ने असम के मुख्यमंत्री सरमा को फोन कर राज्य में बाढ़ की मौजूदा स्थिति की जानकारी ली और केंद्र की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘इससे पहले आज, असम के मुख्यमंत्री से बात की और राज्य में बाढ़ के कारण स्थिति का जायजा लिया। केंद्र से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। मैं बाढ़ से प्रभावित असम के लोगों की सुरक्षा और कुशलक्षेम के लिए प्रार्थना करता हूं।” 

    जिसके बाद सरमा ने प्रधानमंत्री के ट्वीट का जवाब देते हुए उन्हें धन्यवाद दिया। सरमा ने ट्वीट किया, ‘‘असम में बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने मुझे आज सुबह छह बजे फोन किया। इस प्राकृतिक आपदा के कारण लोगों को हो रही कठिनाइयों पर चिंता जताते हुए प्रधानमंत्री ने केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। उनके आश्वासन और उदारता के लिए कृतज्ञ हूं।”