Photo:@social media
Photo:@social media

    इंग्लिश बाज़ार/पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल (West Bengal) के मालदा जिले में एक सरकारी कार्यालय में तृणमूल कांग्रेस (TMC) की एक नेता की बंदूक के साथ पोज देने की एक कथित तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिससे मंगलवार को राजनीतिक विवाद पैदा हो गया।

    तलाशी ली जाए तो बम और राइफल भी मिलेगी-भाजपा 

    ओल्ड मालदा पंचायत समिति की अध्यक्ष मृणालिनी मंडल मैती कथित फोटो में एक आधिकारिक कुर्सी पर बैठी हैं और उनके एक हाथ में बंदूक है। मैती टीएमसी महिला इकाई की जिला इकाई की अध्यक्ष भी हैं। टीएमसी पर निशाना साधते हुए भाजपा जिला अध्यक्ष गोबिंद चंद्र मंडल ने आरोप लगाया, “ अगर उनकी तलाशी ली जाए तो पुलिस को बम और राइफल भी मिलेगी। यह टीएमसी की संस्कृति है। पुलिस नौकरी जाने के डर से कुछ नहीं कर रही है।”  

    पुलिस करेगी मामले जांच-टीएमसी 

    टीएमसी ने कहा कि पुलिस मामले को देखेगी। टीएमसी के राज्य महासचिव कृष्णेंदु नारायण चौधरी ने कहा, “आधिकारिक कुर्सी पर बैठकर कोई पिस्तौल से नहीं खेल सकता। पुलिस जांच करेगी कि यह असली पिस्तौल है या खिलौने वाली पिस्तौल है। लेकिन, मुझे फोटो से जो पता चल रहा है, उससे यह एक असली पिस्तौल लगती है। ऐसी घटना से पार्टी की छवि धूमिल हुई है।” 

    कई बार की कोशिश के बाद भी टिप्पणी के लिए मैती से संपर्क नहीं हो सका। यह पहली बार नहीं है जब मैती किसी विवाद में फंसी हैं। इससे पहले उनके पति पर क्षेत्र के प्रखंड विकास अधिकारी के कार्यालय में एक सरकारी अधिकारी की पिटाई का आरोप लगा था।