बांदा (उप्र). बांदा जिले की नगर कोतवाली क्षेत्र के पडुई गांव में सोमवार को एक युवती ने अपने घर के शौचालय में कथित रूप से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। नगर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक दिनेश सिंह ने मंगलवार को बताया कि पडुई गांव में अपने चाचा-चाची के साथ रह रही युवती सरोज (23) ने सोमवार तड़के अपने घर के शौचालय की खपरैल में दुप्पटे से फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव उसके चाचा को सौंप दिया है।

चाचा राम मनोहर प्रजापति के हवाले से सिंह ने बताया कि सरोज स्नातक की पढ़ाई पूरी कर चुकी थी। उसकी मां यशोदा और भाई विक्रम गुजरात में मजदूरी करने गए हैं और वहां से नहीं आ पाए हैं। बबेरू में उसके रिश्ते की बात चल रही थी, लेकिन मां और भाई की वापसी न हो पाने पर रिश्ते को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका। एसएचओ ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा है, लेकिन उसके चाचा और चाची आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं कर पाए हैं। मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी के उपनिरीक्षक मामले की विस्तृत जांच कर रहे हैं। (एजेंसी)