gyanvapi
ज्ञानवापी मस्जिद (फाइल फोटो)

Loading

नई दिल्ली. उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) से मिल रही बड़ी खबर के अनुसार, अब ज्ञानवापी को लेकर पर वाराणसी कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। वहीं कोर्ट ने केस से जुड़ी 8 याचिकाओं की अब एक साथ ही सुनवाई करने का फैसला किया है। ऐसे में अब इन आठों याचिकाओं की एक साथ सुनवाई आगामी 7 जुलाई को पहली बार होगी। ​​​​​वहीं मामले पर जिला जज अजय कुमार विश्वेश ने सोमवार यानी 22 मई की डेट में अपना यह फैसला सुनाया है।

जानकारी हो कि, इस मामले की सुनवाई सोमवार को जिला जज डॉ। अजय कृष्ण विश्वेश की अदालत में हुई है। वहीं वादिनी महिलाओं के अधिवक्ता सुभाष नंदन चतुर्वेदी के मुताबिक, अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। 

बता दें कि, मां शृंगार गौरी प्रकरण की चार महिला वादिनियों सीता साहू, मंजू व्यास, लक्ष्मी देवी और रेखा पाठक की ओर से जिला जज की अदालत में एक प्रार्थना पत्र दिया गया था। इसमें अदालत से अनुरोध किया गया था कि, ज्ञानवापी प्रकरण से जुड़े एक ही प्रकृति के सात अलग-अलग मुकदमों की सुनवाई जिला जज की अदालत में ही की जाए। इसके बाद जिला जज की अदालत ने आदेश पारित किया और अलग-अलग मुकदमों से संबंधित सभी जरुरी फाइलें तलब कीं। जानकारी दें कि, इस मामले में सभी पक्षों के बयान पहले ही दर्ज हो चुके थे।