लॉकडाउन बढ़ा, आवश्यक सामान की सिर्फ होम डिलीवरी

अंबरनाथ. कल्याण, डोंबिवली, उल्हासनगर मनपा की तरह अंबरनाथ नपा प्रशासन के मुख्याधिकरी डॉ. प्रशांत रसाल ने भी 7 दिन के लिए लॉकडाउन बढ़ाए जाने सबंधी आदेश जारी किए हैं.  जानकारी  के मुताबिक 12 से 19 जुलाई के बीच अंबरनाथ नपा क्षेत्र में मेडिकल की दुकानों को छोड़कर किराना, डेयरी आदि अर्थात अत्यावश्यक सेवा से जुड़ी दुकानें अभी शाम 5 बजे तक खुलती थी वह खुलेंगी, लेकिन उन्हें सिर्फ होम डिलीवरी की अनुमति दी गई है, जिससे दुकानों पर भीड़ न हो.

अंबरनाथ के साथ बदलापुर नपा ने  फिर से जिलाधिकारी के आदेशानुसार शनिवार शाम को एक आदेश जारी करके 19 जुलाई रात 12 बजे तक बढ़ा दिया है. पहले के आदेशानुसार आत्यवश्यक सेवा जैसे किराणा, मेडिकल, बेकरी, दूध, फल की दुकानें शुरू रहेंगी. मेडिकल 24 घंटे तो किराना आदि आत्यवश्यक सेवा सुबह 9 से 5 बजे तक खुली रहेंगी.

दुकानदार परेशान

अंबरनाथ व्यापारी संघ के अध्यक्ष खानजी धल व  उपाध्यक्ष यूसुफ शेख ने बताया कि गत  चार महीने से व्यापार बंद है, दुकानदार अब खुद बेरोजगार हो गए हैं, हम लोग आत्महत्या करने के कगार पर आ गए हैं. व्यापारियों में नाराजगी में हैं कि वह कब तक इस परेशानी का शिकार होंगे.  शेख के अनुसार शहर में जनसंख्या के आधार पर कोरोना के मात्र 2 प्रतिशत भी मरीज नहीं हैं, फिर 98 प्रतिशत लोगों को लॉकडाऊन करके क्यों परेशान किया जा रहा है. संघ के पदाधिकारी शेख व धल का कहना है की जहां लोगों की भीड़ ज्यादा होती है, वह सेवा शुरू रखी गई है और जिसके कारण यह संक्रमण बढ़ रहा है जिन दुकानों में जैसे इलेक्ट्रानिक्स, रेडीमेड, ज्वेलरी शॉप, चश्मा, घड़ी, कपड़े आदि की दुकानें जहां कम भीड़ होती है उन्हें बंद रखा जा रहा है यह कहां का न्याय है.