देह व्यापार में लिप्त महिलाएं रोजगार मिलने से हुई आत्मनिर्भर

भिवंडी. लॉक डाउन की वजह से हनुमान टेकरी स्थित सैकड़ों देह व्यवसाय में लिप्त महिलाओं के समक्ष भुखमरी के हालात पैदा हो गए थे. साईं सेवा संस्था प्रमुख स्वाति खान द्वारा उक्त मुद्दे को बेहद गंभीरता से लेते हुए सामाजिक संगठनों की मदद से देह व्यापार में लिप्त सैकड़ों महिलाओं को अगरबत्ती पैकिंजिंग का कार्य प्रदान कर उनके बिगड़े हालात को सुदृढ किये जाने का बीड़ा उठाया है. कोरोना संक्रमण के डर से वेश्यावृत्ति पेशा बंद होने से भुखमरी की कगार पर खड़ी महिलाओं में रोजगार मिलने से जीवन की नई किरण की आस जाग गई है और अपार हर्ष व्याप्त है.

गौरतलब हो कि रेडलाइट एरिया हनुमान टेकरी क्षेत्र में रहने वाली करीब 300 से अधिक महिलाओं ने कोरोना संक्रमण प्रसार को रोकने हेतु योगदान दिए जाने हेतु महामारी खात्मा तक परिजनों की सुरक्षा की खातिर देह व्यापार न किये जाने की शपथ ली है. करीब 3 माह से कोरोना प्रसार के भय से देह व्यापार बंद किये जाने से महिलाओं के समक्ष भुखमरी के हालात पैदा हो चुके हैं. लाकडाउन समय में तहसीलदार शशीकांत गायकवाड़ द्वारा महिलाओं को राशन आदि मुहैया कराते हुए आर्थिक मदद प्रदान की गई थी.

लाकडाउन अनलॉक होने के बाद भी कोरोना संक्रमण प्रसार पर अंकुश नही लगता देखकर महिलाओं ने देह व्यापार न किये जाने का साहस दिखाया जिसके उपरांत साईं सेवा संस्था प्रमुख स्वाती खान नें सामाजिक संगठनों, औद्योगिक संस्थानों सहित शासन के सहयोग से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाए जाने हेतु अगरबत्ती पैकेजिंग कार्य दिलवाकर सराहनीय कार्य को अंजाम दिया है जिसकी मुक्तकंठ से प्रशंशा देह व्यापार करने वाली महिलाएं सहित समूचा शहर कर रहा है. देह व्यवसाय में लिप्त तमाम महिलाओं ने घर चलाने के लिए रोजगार मिलने पर खुशी प्रकट किया है व कोरोना संक्रमण नियंत्रण तक देह व्यापार नहीं किये जाने का अनूठा संकल्प लिया है.