PIC: ANI/Twitter
PIC: ANI/Twitter

    कोलकाता: कोलकाता (Kolkata) से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक मानसिक रोगी (Mental Patient)  अस्पताल (Mental Hospital) के आठवीं मंजिल के कार्नर पर बैठ गया है। जिसके बाद उसे उतारने की बेहद कोशिश की जा रही है। लेकिन, वह उतरने का नाम नहीं ले रहा है। दमकल कर्मी (Fire Brigade) भी सीढ़ियों के सहारे उसे नीचे लाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वह बार-बार ऊपर से कूदने की धमकी दे रहा है। 

    यह मामला कोलकाता के मल्लिक बाजार स्थित एक निजी न्यूरोसाइंस अस्पताल का है। जानकारी मिली है कि, रोगी अस्पताल की खिड़की से निकलकर अस्पताल के कॉर्नर पर पहुंच गया है। दमकल कर्मी उसे उतारने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। वहीं घटनास्थल के आसपास काफी भीड़ भी आ गई है। जिसकी वजह से यातायात व्यवस्था भी बड़े पैमाने पर बाधित हुई है। 

    दमकल कर्मी जैसे ही लैडर को रोगी के करीब ला रहे हैं वह नाराज हो जा रहा है और वहां से कूद जाने की धमकी दे रहा है। इसी वजह से दमकल कर्मी सीढ़ियों को उससे दूर कर दे रहे हैं। रोगी आठवीं मंज़िल के कार्नर पर बैठकर अजीबोगरीब हरकतें कर रहा है। कभी वह कार्नर पर खड़ा हो जा रहा है, कभी बैठ जा रहा है, कभी पांव लटका कर हिलाने लग रहा है। न्यूज़ एजेंसी ANI ने भी इस घटना के बारे में ट्वीट कर जानकारी दी है। 

    बता दें कि, कुछ साल पहले इसी तरह की घटना हावड़ा से सामने आई थी। जहां गोलाबाड़ी थाना इलाके के दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर के समीप एक इमारत की छत पर एक युवक चढ़ गया था और उसकी पांचवी मंजिल के कार्नर पर जाकर कभी झूलने लगा तो कभी उसपर सोने लगा। आस पास के लोगों ने उसे नीचे आने के लिए कहा, लेकिन वह नहीं सुना। जिसके बाद पुलिस व दमकल की मदद से उसे कड़ी मशक्कक्त के बाद नीचे उतारा गया था। पुलिस ने युवक को मानसिक रूप से बीमार बताया था और उसे बाद में हावड़ा सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था।