fraud

    वर्धा. पिपरी (मेघे) परिसर स्थित प्लाट का फर्जी बिक्रीपत्र तैयार किये़  मृतक के नाम पर अन्य व्यक्ति को दिखाकर दुय्यम निबंधक कार्यालय की आंखों में धूल झोंकी़  जांच पड़ताल में प्रकरण सामने आते ही सह दुय्यम निबंधक ने रामनगर थाने में शिकायत दी़  इस आधार पर चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.  

    सह दुय्यम निबंधक वर्ग 2, वर्धा क्रं. 2 कार्यालय में 17 मार्च 2020 को प्लाट बिक्री के दस्तावेज तैयार किये गए़  इसका दस्त क्रमांक 923/2021 के तहत पंजीयन है़  भीमदेव काशीनाथ कोल्हे की 3 अक्टूबर 2003 को मृत्यु हो गई थी़  बावजूद इसके 17 मार्च 2020 को पंजीकृत दस्तावेज में भीमदेव कोल्हे की बजाए दूसरे व्यक्ति ने स्वयं भीमदेव कोल्हे होने की बात कहकर उक्त कागजात पूर्ण किए़  बिक्री पत्र व पहचानपत्र फर्जी तैयार कर कार्यालय के आंखों में धूल झोंक दी.  

    दुय्यम निबंधक कार्यालय को किया गुमराह

    यह बात मृतक के पुत्र दशराज भीमदेव कोल्हे के ध्यान में आते ही उन्होंने कार्यालय की ओर शिकायत की़ इस आधार पर जांच पड़ताल की गई़  नागपुर के हुडकेश्वर निवासी भूषण केशव मदनकर (40), उमरेड रोड निवासी लोभेष तुकाराम कुलसंगे, डाहाके लेआउट निवासी दिनेश विलास सहारे व अन्य एक व्यक्ति ने मिलकर यह फर्जीवाड़ा किया, यह बात स्पष्ट हुई़  इस आधार पर सह दुय्यम निबंधक दीपाली विठ्टल महल्ले (30) ने रामनगर थाने में शिकायत दर्ज की.  

    कुछ और कर्मचारी जुड़े होने की संभावना

    इस पर पुलिस ने नागपुर निवासी भूषण मदनकर, लोभेष कुलसंगे, दिनेश सहारे व अन्य एक व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया़ आगे की जांच थानेदार धनाजी जलक के मार्गदर्शन में चल रही है़  इस प्रकरण से दुय्यम निबंधक कार्यालय के भी कुछ कर्मचारी जुड़े होने की संभावना जताई जा रही है़  विस्तृत जांच करने पर आरोपी हाथ लग सकते है, ऐसा बताया जा रहा है.