बचपन से थी महिला, Pregnant होने की चाह में खुला पुरुष होने का सच, फिर जो हुआ …

    बीजिंग.चीन (China) में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। मां बनने की कोशिश कर रही महिला को पता चला कि वह महिला नहीं बल्कि पुरुष है। महिला पिछले एक साल से गर्भवती होना चाहती थी, लेकिन हर बार असफल रही। हाल ही में महिला जब पैर में लगी चोट का इलाज कराने डॉक्टर के पास पहुंची, तब उसे पता चला कि वह महिला नहीं बल्कि पुरुष है। डॉक्टर ने महिला को बताया कि उसमें पुरुष वाई गुणसूत्र (Male Y Chromosome) हैं।  बावजूद इसके वह जीवन भर महिला के रूप में रह सकती है। 

    इस कारण नहीं हुई गर्भवती 

    ‘डेली मेल’ की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला की असल पहचान छिपाने के लिए उसे पिंगपिंग नाम दिया गया है। दरअसल, 25 वर्षीय शादीशुदा महिला अपने चोटिल टखने के एक्स-रे (X-Ray) के लिए डॉक्टर के पास गई थी। जहां डॉक्टर ने उसे बताया कि वह दुर्लभ कंडीशन (Rare Condition) से पीड़ित है और इसी वजह से उसे कभी पीरियड नहीं हुए और न ही वह प्रेग्नेंट (Pregnant) हो पाई। डॉक्टर के खुलासे के बाद वह सदमे में है।

    46 XY बीमारी से हैं पीड़ित

    डॉक्टरों के अनुसार, महिला ‘यौन विकास के X46 विकार’ (46 XY disorder of sexual development) से पीड़ित है। यह एक ऐसी अवस्था होती है जिसमें पुरुष गुणसूत्र वाले लोगों में जननांग (Genital Organs) अस्पष्ट, अविकसित या होते ही नहीं हैं। चूंकि पिंगपिंग में फीमेल ऑर्गन हैं, इसलिए उसने कभी इस विषय पर ध्यान नहीं दिया। वो यही समझती रही कि किसी परेशानी की वजह से उसे पीरियड नहीं हो रहे हैं और वह प्रेग्नेंट नहीं हो पाई है। पिंगपिंग ने कहा कि पीरियड न होना उन्हें भी परेशान करता था, लेकिन उन्होंने शर्म की वजह से कभी इस बारे में किसी को नहीं बताया।

    नहीं है यूटेरस या अंडाशय 

    महिला के टखने के एक्स-रे की जांच में डॉक्टरों को कुछ अविकसित हड्डियों के बारे में पता चला, जब उन्होंने विस्तृत जांच की तो यह बात सामने आई कि पिंगपिंग का जन्म महिला नहीं बल्कि पुरुष के रूप में हुआ था। डॉक्टरों ने बताया कि पिंगपिंग में गर्भाशय या अंडाशय नहीं है, यही वजह है कि काफी प्रयासों के बावजूद भी वह प्रेग्नेंट नहीं हो सकी। डॉक्टरों के अनुसार, महिला में कोई पुरुष जननांग नहीं हैं, लेकिन संभव है कि पहले हों और समय के साथ धीरे-धीरे खत्म हो गए हों।

    संभव है इलाज 

    अमेरिका के आनुवांशिक और दुर्लभ रोग सूचना केंद्र (Genetic and Rare Diseases Information Center-GARD) के अनुसार अवस्था वाले कई लोगों में जननांग होते हैं, जिन्हें स्पष्ट रूप से पुरुष या महिला का नहीं कहा जा सकता। GARD विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि 46 XY वाले कुछ लोगों में पूरी तरह से अविकसित मादा प्रजनन अंग होते हैं, जैसे कि गर्भाशय और फैलोपियन ट्यूब, जबकि कुछ में नहीं होते. सर्जरी या हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी के जरिए इसका इलाज किया जा सकता है, लेकिन पिंगपिंग अभी इस बारे में फैसला नहीं ले पाई है।