Woman pilot commits suicide in South Korea due to sexual harassment, Air Force chief resigns

    सोल: दक्षिण कोरिया (South Korea) में एक महिला पायलट (Woman Piolet) के कथित यौन उत्पीड़न (Sexual Harassment) और आत्महत्या (Suicide) करने के मामले पर जनता के रोष को देखते हुए वायु सेना (Air Force) प्रमुख ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया। महिला पायलट के परिवार का आरोप है कि उसके एक पुरुष सहयोगी ने उसका यौन उत्पीड़न किया, जिसके बाद महिला ने आत्महत्या कर ली।

    राष्ट्रपति मून जे-इन के कार्यालय ने बताया कि उन्होंने वायु सेना प्रमुख जनरल ली सिओंग-योंग का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। इससे पहले वायु सेना प्रमुख ने वक्तव्य जारी कर कहा था कि वह इस घटना को लेकर ‘‘गहरी जिम्मेदारी” महसूस कर रहे हैं। जनरल ली ने इस्तीफा ऐसे समय में दिया है जब एक दिन पहले ही रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा था कि महिला सहयोगी का यौन उत्पीड़न करने के संदेह पर एक पुरुष पायलट को गिरफ्तार किया गया है।

    पुरुष पायलट पर आरोप है कि उसने मार्च के महीने में रात्रि भोज के बाद अपने वायु सैन्य अड्डे की ओर लौटते समय कार में महिला का यौन उत्पीड़न किया था। महिला के परिवार की ओर से दायर की गयी याचिका के मुताबिक पीड़िता ने घटना के बारे में अपने वरिष्ठ सहयोगियों को बताया था, लेकिन वरिष्ठों की ओर से मामले को रफा-दफा करने की कोशिश के बाद महिला ने मई में आत्महत्या कर ली थी। अधिकारियों ने आरोपी से समझौता करने के लिए महिला पर दबाव भी बनाया था।

    इस मामले को लेकर शुक्रवार अपराह्न तक 3,40,000 से अधिक लोगों ने याचिका पर हस्ताक्षर कर वायु सेना के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। जनता के गुस्से को देखते हुए राष्ट्रपति मून ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

    गौरतलब है कि अपनी महिला कर्मचारियों की सुरक्षा करने में विफल रहने को लेकर दक्षिण कोरिया की सेना की लंबे समय से आलोचना होती रही है। ऐसे ही एक मामले में 2017 में नौ सेना की एक महिला अधिकारी ने दुष्कर्म का शिकार होने के बाद आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में दोषी अधिकारी को बाद में 15 साल कैद की सजा सुनाई गई थी।