Britain in Strain
AP/PTI Photo

लंदन. क्रिसमस (Christmas) और नये साल के अवसर पर देश आकर अपने परिवार के साथ समय गुजारने का भारतीय छात्रों और पेशेवरों का सपना सोमवार से ब्रिटेन (Britain) से उड़ानों (Flights) का परिचालन बंद होने के साथ ही टूट गया। दुनिया भर में पैर पसार रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) से नये स्वरूप के ब्रिटेन के कुछ हिस्सों में मिलने के बाद सभी उड़ानें बंद कर दी गई हैं।

संभव है कि विश्वविद्यालयों द्वारा दिसंबर की शुरुआत में जांच के बाद परिसर से जाने की अनुमति मिलने के बाद कुछ छात्र भारत लौट गए हों, लेकिन कुछ ने क्रिसमस-नए साल के दौरान अपनी टिकट बुक की होगी। हालांकि, पर्यटक वीजा अभी काफी हद तक निलंबित ही हैं, लेकिन परिवार से मिलने या पारिवारिक कारणों से ब्रिटेन गए लोग भी उड़ानें बंद होने के कारण वहां फंस गए हैं। ब्रिटेन में भारतीय छात्रों का प्रतिनिधित्व करने वाला समूह, नेशनल इंडियन स्टूडेंट्स् एंड एलुमनी यूनियन, ब्रिटेन की प्रमुख सनम अरोड़ा ने कहा, “ब्रिटेन आने-जाने वाले भारतीय छात्रों के लिए चिंता की बात है।”

लंदन में भारतीय उच्चायोग ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई संदेश पोस्ट किए हैं, साथ ही भारत के नागर विमानन मंत्रालय के अपडेट भी डाले हैं। भारत से ब्रिटेन आने वाली उड़ानों को क्या लैंड करने की अनुमति होगी, तमाम लोगों द्वारा यह सवाल किए जाने पर उच्चायोग ने एक बयान जारी किया है, “यह निलंबन 22 दिसंबर, 2020 की रात 11:59 से प्रभावी होगा। इस कारण उक्त अवधि में भारत से ब्रिटेन जाने वाले सभी उड़ानें निलंबित रहेंगी।”

कोरोना वायरस महामारी के दौरान दुनिया भर से फंसे हुए लोगों को भारत वापस लाने के लिए ‘वंदे भारत’ मिशन के तहत एअर इंडिया द्वारा संचालित उड़ानों ने भी तत्काल सभी टिकट रद्द करने की पुष्टि की है।

बयान में कहा गया है, “22 दिसंबर, 2020 की रात 11:59 से 31 दिसंबर, 2020 की रात 11:59 तक ब्रिटेन से आने-जाने वाले सभी उड़ानें रद्द करने के नागर विमानन मंत्रालय के निर्देश के तहत इस दौरान ब्रिटेन के लिए एअर इंडिया की कोई उड़ान संचालित नहीं होगी।” (एजेंसी)