कोरोना वायरस का जन्मदाता चीन दहशत में! वृद्ध दंपत्ति ने फैलाया संक्रमण? स्कूल बंद और उड़ानें हुईं रद्द

    बीजिंग. दुनियाभर के देशों में कोरोना वायरस (Coronavirus) कमजोर पड़ रहा है। जिसके चलते प्रतिबंधों में ढील दी जा रही है। लेकिन दुनियाभर में कोरोना वायरस को फैलाने वाले चीन (China) में फिर एक बार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। लोगों में दहशत का माहौल है। लोग अपने घरों से बाहर निकलने से डर रहे हैं। सड़कें सुनसान हो रही है। सरकार ने लोगों से जरुरत होने पर ही घरों से बाहर निकलने की अपील की है। साथ ही सैकड़ों उड़ाने रद्द करने की घोषणा की है। इसके अलावा स्कूलों (Schools) और संस्थानों को बंद करने के लिए भी कहा है।

    चीन में लगातार पांचवें दिन कोरोना के मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है। चीन में शुक्रवार को कोरोना वायरस के 43 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें चार मरीज बीजिंग से हैं। चीन में ज्यादातर मामले उत्तरी और उत्तरी पश्चिमी प्रांत से सामने आ रहे हैं। सरकार ने इन इलाकों में कड़े प्रतिबंध लागू कर दिए हैं।

    बढ़ते मामलों के लिए वृद्ध दंपत्ति जिम्मेदार? 

    वहीं बढ़ते मामलों के लिए एक वृद्ध दंपत्ति को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। यह दोनों रविवार को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। उन्होंने कथित तौर पर शानक्सी, गांसु और इनर मंगोलिया के क्षेत्र में यात्रा की थी। सोमवार और मंगलवार को मिले 26 स्थानीय मामलों में से लगभग आधे मामले इस दंपत्ति के निकट संपर्क के थे। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं है कि दंपति संक्रमण का स्रोत है। इतना ही नहीं अधिकारियों ने अभी तक यह भी खुलासा नहीं किया है कि 26 में से शेष आधे लोग कैसे पॉजिटिव पाए गए, उनका स्रोत कौन था। जिससे देश भर में संक्रमण के कई स्रोत होने की संभावना है। 

    शुक्रवार को मिले 43 नए मामले

    चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के अनुसार, शुक्रवार शाम तक चीन में कोविड-19 के 43 नए मामले सामने आए हैं। वहीं देश के अलग- अलग हिस्सों में गुरुवार को कोविड-19 के 28 नए मामले सामने आए और ये लोग स्थानीय रूप से संक्रमित हुए थे। सरकार ने अब SARS-CoV-2 वायरस की बड़े पैमाने पर टेस्टिंग को तेज कर दिया है।

    देश में बीजिंग, अंदरूनी मंगोलिया, गांसू, शांक्सी, निंक्सिया, गुझोऊ और किंघाई समेत विभिन्न स्थानों से ये मामले सामने आ रहे हैं। जिसके लिए  शंघाई के उस वृद्ध दंपत्ति को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है जो कई शहरों में गए। अधिकारी उन लोगों की तलाश में हैं जो उस दंपत्ति के संपर्क में आए थे।

    60 प्रतिशत उड़ानें निलंबित

    चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दो प्रमुख हवाई अड्डों शीआन और लान्झोउ के लिए लगभग 60 प्रतिशत उड़ानें अस्थायी रूप से निलंबित कर दी गई हैं। इसके अलावा, इनर मंगोलिया क्षेत्र में प्रांत से आने-जाने वाली यात्री उड़ानों को रोकने और निवासियों को घर के अंदर रहने और COVID-19 नियमों का पालन करने के लिए एक आदेश जारी किया गया है।

    लॉकडाउन से कोयले के आयात पर पड़ेगा असर

    चीन का मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने बताया है कि लॉकडाउन से कोयले के आयात पर असर पड़ेगा और आपूर्ति श्रृंखला बाधित होगी। देश में कड़ाके की ठंड पड़ने वाली है। ऐसे में कोयले की आपूर्ति की कमी विनाशकारी हो सकती है। चीन के लिए इससे बुरा समय नहीं आ सकता है। बीजिंग फरवरी में 2022 के शीतकालीन ओलंपिक की मेजबानी के लिए तैयार है। चीनी सरकार शून्य संक्रमण की दिशा में प्रयास कर रही थी और खेलों से पहले वायरस के खिलाफ कड़े कदम उठा रही है।