राहुल गांधी से धक्का मुक्की लोकतंत्र का अपमान

  • धक्का मुक्की करने वाले पुलिस कर्मियों को निलंबित करें

चंद्रपुर. सामूहिक दुष्कर्म की शिकार उत्तर प्रदेश के हाथरस की पीडित के परिवर से मिलने जा रहे सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के वाहनों को उत्तर प्रदेश पुलिस ने रोका। इस बीच यूपी पुलिस ने राहुल गांधी और उनके कार्यकर्ताओं के साथ धक्का मुक्की की। यह मोदी सरकार द्वारा जनबुझकर करा लोकतंत्र का अपमान करने का आरोप चंद्रपुर शहर कांग्रेस ने किया है।

आज गांधी चौक में मोदी सरकार के खिलाफ घोषणा कर मोदी के पुतले का दहन किया गया। इस अवसर पर पालकमंत्री विजय वडेट्टीवार, सांसद बालु धानोरकर, विधायक सुभाष धोटे, प्रतिभा धानोरकर, कांग्रेस के शहर अध्यक्ष रामू तिवारी, ग्रामीण अध्यक्ष प्रकाश देवतले, विनोद दत्तात्रय, अल्पसंख्याक प्रदेश महासिचव अधि. मलक शाकीर, किसान कांग्रेस अध्यक्ष रोशन पचारे, अल्पसंख्याक जिलाध्यक्ष सोहेल रजा, पार्षदद्वय नंदू नागरकर, सुनिता लोढिया, किसान कांग्रेस के शहर अध्यक्ष भालचंद दानव, युकां प्रदेश सचिव सचिन कत्याल, युकां प्रदेश सचिव रुचिता दवे, कुणाल चहारे के साथ बडी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे।

Congress Protest in Chandrapur 02

हाथरस की घटना के बाद बलरामपुर में एक लडकी के साथ गैंगरेप के बाद निर्मम हत्या कर दी गई। यह बडा अपराध है। भाजपा सरकार बलरामपुर, हाथरस जैसी लापरवाही न करें। आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर कार्रवाई करें, राहुल गांधी के साथ धक्का मुक्की करने वाले पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों को तुरंत निलंबित करने की मांग चंद्रपुर शहर कांग्रेस ने की है।