सिंगर सोनू निगम ने मिला पद्म पुरस्कार मां को किया समर्पित, बोले- ‘वो आज होती तो बहुत रोती…’

    मुंबई: भारत सरकार (The Government of India) ने मंगलवार को 73वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों के प्राप्तकर्ताओं का खुलासा किया। इसके साथ ही बताया गया कि ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra), ओलंपियन प्रमोद भगत (Olympians Pramod Bhagat) और वंदना कटारिया (Vandana Kataria), निर्देशक चंद्रप्रकाश द्विवेदी, और अनुभवी अभिनेता विक्टर बनर्जी को प्रतिष्ठित पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। लोकप्रिय पार्श्व गायक सोनू निगम (Sonu Nigam) को भी विशिष्ट योगदान के लिए देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री (Padma Shri) से सम्मानित किया जाएगा। ऐसे में अब सिंगर ने इसपर अपनी प्रतिकिया दी है। 

    सोनू निगम ने बताया कि ‘25 जनवरी मेरे और मेरे परिवार के लिए एक विशेष दिन था। मुझे एक योग्य उम्मीदवार के रूप में सोचने और मुझे पद्म श्री प्रदान करने के लिए मैं भारत सरकार का बहुत आभारी हूं। उन सभी का दिल से धन्यवाद जिन्होंने मुझे चुना और इस प्रतिष्ठित सम्मान के लिए मेरा नाम सुझाया।‘ 

    सोनू ने आगे कहा, ‘मैं अपनी मां शोभा निगम और अपने पिता अगम कुमार निगम को भी धन्यवाद देना चाहता हूं। दरअसल, मैं यह अवॉर्ड अपनी मां को समर्पित करना चाहता हूं। अगर वह आज यहां होती तो बहुत रोती। मैं इस अवसर पर अपने गुरुओं के सामने हाथ जोड़ूंगा जिन्होंने मुझे इतना कुछ सिखाया है। आज मैं जो कुछ भी जानता हूं वह उन्हीं के आशीर्वाद के कारण हूं। मेरे यात्रा का हिस्सा रहे मेरे दोस्तों और सहकर्मियों और मेरे परिवार के प्रति मेरी हार्दिक कृतज्ञता हूं, जो मेरे समर्थन का स्तंभ रहे है।‘ 

    आपको बता दें, सोनू निगम के अपने करियर में विभिन्न भाषाओं में कई गाने हैं। साल 2003 में उन्होंने ‘कल हो ना हो’ के टाइटल ट्रैक को गाने के लिए प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था। सोनू निगम के सबसे लोकप्रिय गाने पीके फिल्म का ‘भगवान है कहां रे तू’, अग्निपथ से ‘मुझ में कहीं’ और ‘कभी खुशी कभी गम’ फिल्म से ‘सूरज हुआ मदधम’ से अलग जगह बनाई हैं।