chandrayan-2

बेंगलुरु. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने बीते बृहस्पतिवार को कहा कि उसने चंद्रयान-2 (Chandrayan 2) मिशन के शुरुआती आंकड़े आम लोगों के लिए जारी किए हैं। चंद्रयान-2 आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से 22 जुलाई, 2019 को रवाना किया गया था।

इसरो ने बताया कि दो सितंबर, 2019 को चांद की कक्षा में स्थापित किया गया कृत्रिम उपग्रह चांद से जुड़े सवालों के रहस्यों से पर्दा हटाने के लिए काम कर रहा है और इसरो का कहना है कि मिशन से जुड़ी अन्य सभी चीजें अच्छी स्थिति में हैं। इसरो ने आगे बताया कि बृहस्पतिवार को सभी उपयोगकर्ताओं के लिए आंकड़े जारी किये जा रहे हैं। चंद्रयान-2 मिशन चांद की सतह पर उतरने का भारत का पहला प्रयास था।