thane
Representational Pic

    नई दिल्ली: केंद्र सरकार (Center Government) ने कोरोना (Corona Virus) को हराने के लिए एक साल राष्ट्रव्यापी टीकाकरण (Vaccination) अभियान शुरू किया था। जिसे आज 16 जनवरी को एक साल पूरा हो गया। टीकाकरण को एक साल पुरे होने पर डाक टिकट जारी किया गया है।  इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) ने कहा कि आज हमारे लिए एक महत्वपूर्ण दिन है। मैं सभी वैज्ञानिकों को इस अवसर पर हार्दिक बधाई व धन्यवाद देता हूं।

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया ने कहा कि, आज का दिन हमारे लिए बेहद अहम है। एक साल में हमने 156 करोड़ वैक्सीन की डोज लोगों को लगाई है। 18 साल से ऊपर की 93 फीसदी भारत की आबादी आज कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ले चुकी है। 70 प्रतिशत आबादी ने वैक्सीन की दोनों खुराक लगवा ली है। 

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट करके कहा कि, भारत ने पिछले साल एक अप्रैल को टीके की 10 करोड़ खुराक देने की उपलब्धि हासिल कर ली थी। वहीं,  25 जून को 25 करोड़, 6 अगस्त को 50 करोड़ और 13 सितंबर को 75 करोड़ खुराकें देने का आंकड़ा पार कर लिया। 

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, कोरोना महामारी पुरे देश में फ़ैल गई थी। हमने अपने ही देश में बनी वैक्सीन लोगों को लगाने का निश्चय किया, तो कई लोगों ने भ्रम की स्थिति पैदा की। लेकिन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया और कंपनियों से वैक्सीन अभियान को आगे बढ़ाने के लिए कहा। आज हम दुनिया में सबसे कम समय में सबसे ज्यादा वैक्सीन लगाने वाला देश बन गए है। 

    इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि,  वैक्सीनेशन ने  वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई को बेहद मजबूत बनाया और इसके चलते ही लोगों की जान बचाई जा सकी तथा सुरक्षित तरीके से आजीविका चलाई जा सकी। उन्होंने कहा कि जब वैश्विक महामारी पहली बार आई थी, तब वायरस के बारे में ज्यादा नहीं पता था। हालांकि, हमारे वैज्ञानिकों और नवप्रवर्तकों ने टीकों को विकसित करने में खुद को झोंक दिया। 

    नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘भारत को इस बात पर गर्व है कि हमारे देश ने टीकों के माध्यम से वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ने में योगदान दिया।” उन्होंने कहा, “मैं टीकाकरण अभियान से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को सलाम करता हूं। हमारे चिकित्सकों, नर्सों और स्वास्थ्यकर्मियों की भूमिका असाधारण रही है।”

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को भारत के कोविड टीकाकरण अभियान के एक वर्ष के सफल समापन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की और कहा कि देश ने दुनिया के लिए एक उदाहरण स्थापित किया है कि कैसे सरकार और लोग मिलकर असंभव चुनौतियों पर विजय प्राप्त कर सकते हैं।  शाह ने इस प्रयास के लिए वैज्ञानिकों, स्वास्थ्यकर्मियों, कोविड योद्धाओं और देश की जनता को बधाई भी दी।

     रविवार सुबह सात बजे तक की अंतरिम रिपोर्ट के मुताबिक देश में कोविड-19 टीकाकरण के तहत 156.76 करोड़ से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं। 43.19 लाख एहतियाती खुराकें देने के साथ ही 15 से 18 आयु वर्ग के 3,38,50,912 लाभार्थियों को पहली खुराक दी जा चुकी है।