रिश्तों का कत्ल, हत्यारिन बहु ने सास-ननद को मौत के घाट उतरा, यूं हुआ खुलासा, Pics

    प्रयागराज. यूपी के जिला प्रयागराज में इंसानियत और रिश्तों को तार-तार कर देने वाला मामला सामने आया है। बेटी को वापस पाने की महिला को ऐसी सनक चढ़ी की उसने अपने ही घरवालों को मौत के घाट उतार दिया। दोहरे हत्याकांड की साजिश को बहू ने ही 13 अक्टूबर को अंजाम दिया था। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किये जाने वाले प्रयुक्त चापड़, हसिया, लूटे गए जेवरात, रुपये आदि बरामद कर लिए है।  

    13 अक्टूबर को हुआ था डबल मर्डर

     बीते 13 अक्टूबर की सुबह प्रयागराज के यमुनापार इलाके के औद्योगिक थाना क्षेत्र के मियां के पुरा गांव में डबल मर्डर की सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। लोगों को पता चला कि गांव में रहने वाले एक दंपत्ति के घर डबल मर्डर हो गया है। मां बेटी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई है जबकि घर का मुखिया बजरंग बहादुर पटेल गंभीर रूप से घायल है। जिसका आज भी इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है। 

    पुलिस ने किया खुलासा

    रिपोर्ट के अनुसार सोमवार रात कुछ अज्ञात हमलावर घर में दाखिल हुए और परिवार के लोगों पर हमला कर दिया। हमलावर लूट के इरादे से घर में दाखिल हुए थे लेकिन घर वालों की नींद खुल जाने से हमलावर हत्या को अंजाम देकर भाग निकले। पुलिस ने तफ्तीश में पाया कि इस घटना की मास्टरमइंड बहू और दो अन्य लोग है। फिलहाल पुलिस ने कातिल बहू और घटना में शामिल दो अन्य आरोपियो को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है। पुलिस के खुलासे के बाद सभी सकते में आ गए।  

    बता दें कि प्रयागराज पुलिस ने इस हत्याकांड सुलझाने के लिए ऐड़ी चोटी का जोर लगा दिया था। स्थानीय पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम ने हर एक बिंदुओं पर जांच की। पुलिस ने बहु सलोनी के बैक ग्राउंड की जानकारी निकाला तो पाया कि कुछ दिन पहले अपनी बच्ची को ले जाने के लिए सास, ससुर और ननद से झगड़ा हुआ था। दरअसल सलोनी के पति की कुछ साल पहले मौत हो गई थी, जिसके चलते वह ससुराल से अलग रह रही थी। ससुराल वालो के साथ रह रही बेटी को वह अपने साथ रखना चाहती थी, जिसका विरोध ससुराल पक्ष के लोग कर रहे थे। 

    बहू के अलावा दो अन्य गिरफ्तार

    पुलिस ने इसी ऐंगल पर जांच की और सलोनी के मोबाइल फोन की सीडीआर के अलावा उससे कड़ाई से पूछताछ की तो सलोनी ने सारा राज़ उगल दिया और उसी की निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल चॉपर और दोनों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया।  इस हत्या कांड के लिए सलोनी ने अपने पति के दोस्त शोभनाथ और एक अन्य के साथ मिलकर इस सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया था।