केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी (Photo Credits-ANI Twitter)
केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: 12 राज्यसभा सांसदों (Suspension of 12 MPs) के निलंबन को लेकर घमासान जारी है। विपक्ष ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। संसद के हंगामे के कारण शीतकालीन सत्र का अधिकतर समय हंगामे की भेंट चढ़ गया है। इस मामले पर एक बार फिर केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी (Union Minister Prahlad Joshi) ने कहा कि 12 सांसद पहले मांगे माफी फिर सस्पेंशन वापस लेने के लिए हम तैयार हैं। 

    केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि राज्यसभा में हुई घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने इतना दुर्व्यवहार किया, अभी भी बोल रहे हैं कि हमने जो कुछ किया है वो सही है। मैंने राज्यसभा में कल ऑन रिकॉर्ड कहा है कि अगर आप माफी मांगने के लिए तैयार होते हैं तो हम निलंबन वापस लेने के लिए तैयार हैं। 

    गौर हो कि इस मामले पर सरकार और विपक्ष अपने ही रुख पर अड़े हुए हैं। सरकार की तरफ से जहां माफी मांगने के लिए कहा जा रहा है तो दूसरी तरफ विपक्षी सांसदों का कहना है कि वे माफी नहीं मांगेंगे। इन सांसदों का कहना है कि जनता की आवाज उठाने के लिए वो आखिर सत्ता पक्ष से माफी क्यों मांगें।