Two people arrested from Gwalior for giving shelter to miscreants of Vikas Dubey gang

कानपुर. कानपुर में जिस कुख्यात अपराधी विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला किया गया उसने रियल एस्टेट का कारोबार किया और जिला स्तर का चुनाव जीता।

कानपुर के पास बिकरू गांव में हुई मुठभेड़ के कुछ ही घंटों बाद विकास दुबे की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी, जिसमें वह एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश सरकार के एक मंत्री के साथ दिखाई दे रहा है। कांग्रेस ने दावा किया कि यह राजनीतिक संरक्षण दर्शाता है।

इसके अलावा, एक अन्य तस्वीर में दुबे जिला पंचायत के चुनाव में अपनी पत्नी रिचा दुबे के लिए वोट मांगते हुए पोस्टर में दिखाई दे रहा है। यह चुनाव रिचा जीती थीं और बिकरू गांव इसी जिला पंचायत के अंतर्गत आता है।

अधिकारियों के मुताबिक, वर्ष 2000 में दुबे ने जेल में रहते हुए खुद भी जिला पंचायत चुनाव में शिवराजपुर सीट से जीत हासिल की थी। उस दौरान वह हत्या के मामले में जेल में बंद था। दुबे के खिलाफ करीब 60 आपराधिक मामले चल रहे हैं।