Britain: Healthy participants to be infected for corona vaccine testing

मुंबई. राज्य में कोरोना मरीजों की घटती संख्या को देखकर जो लोग यह सोच पाल बैठे हैं कि कोरोना वायरस (Corona virus) का खतरा टल गया है, वे गलतफहमी में जी रहे हैं. कोरोना खतरा अभी टला नहीं है. जिस प्रकार  सावधानी हटते ही दुर्घटना होने में देर नहीं लगती, उसी तरह से कोरोना को नजरअंदाज करना बहुत मंहगा पड़ सकता है. पिछले एक सप्ताह से राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या में कमी आई है. अक्टूबर के पहले हफ्ते तक रोजाना 20 से  22 हजार मरीज मिल रहे थे. बुधवार को दो महीने में सबसे कम केवल 8522 मरीज मिले थे. हालांंकि एक सप्ताह से मरीजों की संख्या 10 से 12 हजार के बीच बनी हुई है. कोरोना का संक्रमण कम होने से यह भ्रम नहीं पालना चाहिए कि अब सब कुछ नार्मल हो चला है. ऐसे लोगों को यूरोपीय देशों खासकर फ्रांस की हालत देखकर सबक लेना चाहिए, जहां कोरोना की वापसी के बाद दुबारा इमरजेंसी लगानी पड़ी है. 

आईसीएमआर ने दी चेतावनी 

आईसीएमआर ने भी चेतावनी दी है कि यदि  सख्ती के साथ नियमों का पालन नहीं किया गया तो कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ सकते हैं. केरल और कर्नाटक का उदाहरण सामने है. जहां कोरोना खत्म होने के कगार पर पहुंच गया था, लेकिन नागरिकों की लापरवाही की वजह से कोरोना की तेजी से वापसी हो गई.गर्मी के मौसम से लेकर बरसात तक कोरोना का कहर देखने को मिला था. आगे ठंड का मौसम आने वाला है. इसको लेकर दुनियाभर के वैज्ञानिक चेतावनी दे रहे हैं कि ठंड के मौसम में कोरोना के केसेस बढ़ सकते हैं. 

मुंबई में 2119 नए मरीज मिले

गुरुवार को राज्य में 10,226 नये मरीज मिले, जबकि 13,714 मरीज ठीक हुए हैं. अब तक 13 लाख 30 हजार 483 मरीज ठीक हो चुके हैं. 24 घंटे में 337 मरीजों की मौत होने के साथ मृतकों की संख्या 41,196 हो गई है.  कुल मरीजों की संख्या 15 लाख 64 हजार 615 हो गई है.1 लाख 92 हजार एक्टिव मरीज हैं. मुंबई में भी गुरुवार को नये मरीजों की संख्या 2119 रही. 2 लाख 4 हजार 110 मरीज ठीक हुए हैं. कुल मरीजों की संख्या  2 लाख 36 हजार 721 हो गई है. 9601 मरीजों की मौत हो चुकी है. मुंबई में अभी एक्टिव मरीजों की संख्या 22,555 है. 

होटल, फूड कोर्ट, रेस्टोरेंट, बार को 11.30 तक खोलने की अनुमति

मुंबई में मिशन बिगेन अगेन के तहत शुरू किए गए राज्य के व्यापारिक प्रतिष्ठानों, दुकानों और  होटलों को 5 अक्टूबर को 33% क्षमता के साथ खोलने की अनुमति दी थी. सुबह 9 से शाम 7 बजे तक खोलने की अनुमति थी. हालांकि अनलॉक में स्कूल, कॉलेज, सिनेमा घर, स्वीमिंग पूल, इंटरटेनमेंट पार्क,  ऑडिटोरियम, हॉल को अभी तक अनुमति नहीं दी गई है. बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने गुरुवार को सर्कुलर जारी कर कहा है कि होटल, रेस्टोरेंट, फूड कोर्ट, बार को सुबह 7 से रात 11.30  बजे तक और दुकानों, व्यवसायिक प्रतिष्ठानों जिसमें प्राइवेट ऑफिस शामिल हैं सुबह 7 बजे से रात 9.30 तक खुला रखने की अनुमति दी जाती है. दुकानदारों और होटल मालिकों की तरफ समय सीमा बढ़ाने की मांग पर यह निर्णय लिया गया है. इससे पहले जारी किए गए दिशानिर्देशों का सभी को पालन करना अनिवार्य होगा.