जांच करने गए पुलिस कर्मियों पर लोगों के भीड़ ने किया हमला, 150 लोगों के खिलाफ FIR  दर्ज

    वारजे: वारजे के म्हाडा कॉलोनी में जांच पड़ताल करने गए अपराध शाखा के पुलिस अधिकारीयों पर हमला करने के जुर्म में 150 लोगों  पर मामला दर्ज किया गया  है। पुलिस की जानकारी अनुसार, अपराध शाखा (यूनिट 1)वाहनचोरी पथक में कार्यरत पुलिस शिपाई श्रीकांत दगडे और हृषिकेश कोलप वारजे परिसर में पेट्रोलिंग कर रहे थे। उस समय म्हाडा कॉलोनी का खबरी धीरज डोलारे (धनकवडी ,पुणे ) ने जानकारी दी की, अभिजीत खंडागले  (म्हाडा कॉलोनी 4 मजला  आरएमडी कॉलेज के पास ) के पास  देशी पिस्टल और कारतूस है।

    वह उसके साथियो के साथ दो तीन दिन में वो अपने परिसर में चोरी करने वाला  है। इस बात की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ अधिकारी को बताकर दोनों पुलिसकर्मी म्हाडा कॉलोनी के बिल्डिंग नंबर 2 के पास  मंगलवार को करीब सात बजे पहुंचे। पुलिस कर्मी अभिजीत रहता है उस 4 माले के तरफ सीढ़ियों से जा रहे थे। पुलिस कर्मी वर्दी में न होने के कारन कुछ  लड़कों ने उनकी तरफ शक की नजर से देखा। 

    धीरज डोलारे हमेशा पुलिस को झूटी खबर देकर लोगों को हमेशा परेशान करते रहता है। ऐसा बोलकर लोगों ने  पुलिसकर्मियों के साथ बहस करना सुरु कर दिया। इस दौरान पुलिस कर्मियों ने लोगों को बताया गया की वह पुलिस अधिकारी है और सरकारी कार्य में रूकावट न डाले। लेकिन लोगों ने उनकी बात नहीं सुनी।

    आगे बहस बढ़ते ही धीरज डोलारे और पुलिसकर्मियो पर लोगों की भीड़ ने बांस, सीमेंट के ब्लॉक, स्टंप लेकर उनको मारने लगे। इस दौरान सीमेंट ब्लॉक लगने पर धीरज घायल हो गया। पुलिस कर्मियों के समझाने पर भी  लोगों ने उनकी नहीं सुनी और पुलिसकर्मियों  को घायल कर दिया। घायलों को वारजे के माई मंगेशकर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

    हमला करनेवाले 150 से ज्यादा लोग है उनमे से 27 लोगों की पहचान हो गयी है।  और बाकि लोगों की तलाश चल रही है। वारजे पुलिस थाने में आरोपियों पर  कलम 307  के साथ अन्य कलम के साथ मामला दर्ज कर दिया है। आगे की जांच  पुलिस निरीक्षक अमृत मराठे कर रहे है। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शंकर खटके ने जानकारी दी की, अभीतक किसीको भी गिरफ्तार नहीं किया गया है, लेकिन जल्द ही सबको गिरफ्तार किया जायेगा।