BJP Protest in Pimpri-Chinchwad for the resignation of the Home Minister

    पिंपरी. मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह (Former Mumbai Police Commissioner Parambir Singh) द्वारा महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) पर लगाये गए गंभीर आरोप के बाद भाजपा (BJP) का रुख आक्रामक हो गया है। पार्टी की शहर इकाई की ओर से रविवार को देशमुख के इस्तीफे (Resignation) की मांग को लेकर आंदोलन (Protest) किया गया। पिंपरी मोरवाड़ी स्थित भाजपा कार्यालय के सामने पार्टी के शहराध्यक्ष एवं विधायक महेश लांडगे के नेतृत्व में यह आंदोलन किया गया।

    इस आंदोलन में भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्षा उमा खापरे, संगठन महासचिव अमोल थोरात, महासचिव राजू दुर्गे, बाबू नायर, महिला मोर्चा शहराध्यक्षा उज्ज्वला गावडे, प्रदेश सदस्या शैला मोलक, पूर्व सभागृह नेता एकनाथ पवार, नगरसेवक संतोष लोंढे, योगिता नागरगोजे, नम्रता लोंढे, सागर गवली, राजेन्द्र लांडगे, कैलास सानप, गणेश ढाकणे, अनिल राउत, राजेंद्र ढवले, प्रसिद्धी प्रमुख संजय पटनी, कोमल कालभोर, कोमल शिंदे, आशा काले, गिता महेंद्रु, सोनम जांभुलकर, दत्ता गव्हाणे, सचिन तापकीर, भाउसाहेब तापकीर, रवि जांभुलकर, शिवराज लांडगे, कविता भोंगाले, निखील कालकुटे, प्रकाश जवलकर, सुप्रिया चांदगुडे, विजय शिनगर, महादेव कवितके, देवदत्त लांडे, मानिक फडतरे, हेमंत देवकुले, तेजस्वीनी कदम, अजित कुलथे आदि शामिल हुए। 

    गृह मंत्री के तत्काल इस्तीफा दें

    आंदोलन के दौरान अपने संबोधन में भाजपा विधायक महेश लांडगे ने कहा कि विधानसभा में विपक्षी दल के नेता देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा सत्र में सचिन वाजे मामले में महाविकास आघाडी सरकार को निशाने पर लिया। वाजे के खिलाफ कार्रवाई की गई थी। अब मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने एक गंभीर आरोप लगाया है कि गृह मंत्री अनिल देशमुख वाजे की मदद से हर महीने 100 करोड़ रुपए की वसूली कर रहे थे। अगर गृह मंत्री, जो राज्य की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार है, आयुक्त को 100 करोड़ रुपये हफ्ता वसूल करने का आदेश देता है, तो यह बहुत शर्मिंदगी की बात है। हम ऐसे भ्रष्ट मंत्रियों का समर्थन करने और गृह मंत्री के तत्काल इस्तीफे की मांग के लिए महाविकास अघाडी सरकार के खिलाफ सार्वजनिक रूप से विरोध करते हैं।