3 tough contenders to become the Vice-Captain of T20 Team India
File Photo

    -विनय कुमार

    इंग्लैंड और भारत के बीच टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद अब 12 मार्च शुक्रवार से T20 सीरीज की शुरुआत हो रही है। इस सीरीज की समाप्ति के बाद दोनों देशों के बीच वनडे सीरीज भी खेला जाना है। इन सीरीज के बाद टीम इंडिया के क्रिकेट के तीनों फाॅर्मेट (Test Cricket, ODI Cricket, T20 Cricket) में ICC रैंकिंग में टॉप पर पहुंचने का सुनहरा मौका है।

    फिलहाल, हाल ही खत्म हुई 4 मैचों की टेस्ट सीरीज (India vs England Test Series 2021) भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 3-1 से जीत हासिल की और ICC Test Ranking में टॉप पर काबिज है। लेकिन, इस समय भारत एकदिवसीय क्रिकेट (ODI ICC Ranking) और T20 रैंकिंग में दूसरे पायदान पर है।

    टीम इंडिया का T20 रैंकिंग में टॉप पर पहुंचने का मौका

    इस समय टीम इंडिया अंतरराष्ट्रीय T20 रैंकिंग में 268 पॉइंट्स के साथ दूसरे स्थान पर है और इंग्लैंड 275 पॉइंट्स के साथ टॉप पर है। अगर भारत को इस रैंकिंग में इंग्लैंड को पछाड़कर टॉप पर काबिज होने है तो टीम इंडिया को रणनीति पर काम करना होगा।

    भारत और इंग्लैंड के बीच 5 मैचों की T20 सीरीज 12 मार्च से शुरू हो रही है। अगर टीम इंडिया 4-1 या 5-0 से सीरीज (India vs England T20 Series 2021) जीत जाती है, तो भारत ICC T20 रैंकिंग में टॉप पर पहुंच सकता है।

    और अगर भारत 4-1 से सीरीज जीतता है, तो भारत के 272 पॉइंट्स होंगे, और इंग्लैंड के 269 होंगे। ऐसे में भी भारत टॉप पर काबिज हो जाएगा। और अगर भारत 5-0 से इंग्लैंड को हरा देता है, तो भारत के 274 पॉइंट्स होंगे और इंग्लैंड के 267।

    इंग्लैंड के खिलाफ T20 सीरीज (India vs England T20 Series 2021) के खत्म होने के बाद दोनों देशों के बीच 23 मार्च से 3 मैचों की वनडे सीरीज (ODI Series India vs England 2021) शुरू होगी। इस सीरीज में अगर भारत 3-0 से सीरीज जीत हासिल करता  है, तो वह (ICC ODI WORLD RANKING) वनडे रैंकिंग में टॉप पर पहुंच सकता है।

    इस समय टीम इंडिया 117 अंकों के साथ ICC World Rankings mein दूसरे पायदान पर है। इंग्लैंड 123 अंकों के साथ टॉप पर है। अगर वनडे सीरीज में भारत 3-0 से जीत जाता है, तो भारत के 120 अंक होंगे और इंग्लैंड के 119।

    और अगर भारत वनडे (ODI) और T20 क्रिकेट की ICC World Rankings में टॉप पर आ जाता है तो, एक ही समय में क्रिकेट के तीनों अंतरराष्ट्रीय फॉर्मेट्स में टॉप पर काबिज रहने वाली पहली टीम हो जाएगी।