India U19 vs Ireland U19 Live Streaming, ICC World Cup 2022 When and Where to watch IND U19 vs IRE U19 Live

    तारोबा (त्रिनिदाद). भारत की अंडर-19 टीम के कप्तान यश धुल, उप कप्तान शेख रशीद और टीम के उनके चार साथी कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं जिसके कारण उन्हें बुधवार को यहां आयरलैंड के खिलाफ विश्व कप के ग्रुप बी मैच में बाहर रहने को बाध्य होना पड़ा। इससे भारत के अभियान को बड़ा झटका लगा है। धुल और रशीद के अलावा बल्लेबाज आराध्य यादव, वासु वत्स, मानव परख और सिद्धार्थ यादव भी इस वायरस से संक्रमित पाए गए हैं जिसके कारण भारतीय टीम आयरलैंड के खिलाफ बामुश्किल 11 खिलाड़ियों को उतार पाई।

    भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘भारत के तीन खिलाड़ी कल पॉजिटिव पाए गए और उन्हें पहले ही पृथकवास में भेज दिया गया था। सुबह मैच से पहले हमारे कप्तान और उप कप्तान भी रेपिड एंटीजेन परीक्षण में पॉजिटिव पाए गए जो निर्णायक नहीं था।”

    उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए एहतियात के तौर पर उन्हें मुकाबले से हटा दिया गया। इन खिलाड़ियों में कप्तान यश धुल और उप कप्तान शेख रशीद भी शामिल हैं। हमारे पास सिर्फ 11 खिलाड़ी उपलब्ध हैं और छह खिलाड़ी पृथकवास में हैं।”

    धुल और रशीद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले मुकाबले में खेले थे लेकिन अराध्य उस मैच का हिस्सा नहीं थे। धुल की गैरमौजूदगी में निशांत सिंधू बुधवार को आयरलैंड के खिलाफ टीम की अगुआई कर रहे हैं। भारत ने अपना पहला मैच ग्याना में खेला और आयरलैंड के खिलाफ मुकाबले के लिए त्रिनिदाद आई। संदेह है कि ग्याना में रहने के दौरान खिलाड़ी संक्रमित हुए। भारत को शनिवार को युगांडा से भिड़ना है और देखना होगा कि इस मैच का आयोजन होता है या नहीं।

    बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा, ‘‘अगर सभी खिलाड़ी पृथकवास में रहते हैं तो कुछ स्टैंडबाई खिलाड़ियों को मुख्य टीम में जगह मिल सकती है। हमें इंतजार करना होगा क्योंकि तीन मामले रेपिड एंटीजेन परीक्षण के हैं। उम्मीद करते हैं कि उनका आरटी पीसीआर परीक्षण नेगेटिव आएगा।”

    भारत ने टूर्नामेंट के लिए 16 सदस्यीय टीम की घोषणा की थी और पांच स्टैंडबाई खिलाड़ियों को चुना था। स्टैंडबाई खिलाड़ी भारत में हैं क्योंकि आईसीसी ने सिर्फ 17 खिलाड़ियों को स्वीकृति दी है। इन्हें टूर्नामेंट के लिए कैरेबिया भेजना होगा। कोविड पॉजिटिव खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य पृथकवास का समय 10 दिन है और अभी पृथकवास से गुजर रहे सभी खिलाड़ी टूर्नामेंट के नॉकआउट चरण तक बाहर रहेंगे। अगर भारत नॉकआउट में जगह बनाता है तो वे 29 जनवरी को क्वार्टर फाइनल में खेल पाएंगे। बीसीसीआई सूत्र ने कहा, ‘‘हमें तब तक नतीजा नेगेटिव आने की उम्मीद है।”

    टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की इंटीग्रिटी इकाई के प्रमुख एलेक्स मार्शल ने कहा था कि टीम में पॉजिटिव पीसीआर परीक्षण नतीजे का मतलब यह नहीं है कि मुकाबले को स्वत: ही स्थगित या रद्द कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा था, ‘‘मुख्य सिद्धांत उचित सतर्कता के साथ खेलना जारी रखना है यदि यह सुरक्षित और व्यावहारिक हो।”

    आईसीसी ने जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से जुड़े सभी मुद्दों से निपटने के लिए जैव सुरक्षित वैज्ञानिक सलाहकार समूह (बीएसएजी) गठित किया है। इस समूह का कार्य यह सुनिश्चित करना है कि कोविड-19 से जुड़े किसी भी मुद्दे से उचित तरीके से निपटा पाए जिसके लिए स्वतंत्र विशेषज्ञ वैज्ञानिक एवं चिकित्सा परामर्श मिले। (एजेंसी)