Mohan Yadav
ANI Photo

Loading

भोपाल. मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सबको चौंकाया। पार्टी ने मोहन यादव (Mohan Yadav) को राज्य का नया मुख्यमंत्री घोषित किया है। इसी के साथ शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) की छुट्टी हो गई है। यादव उज्जैन दक्षिण से विधायक है और शिवराज सरकार में शिक्षा मंत्री (Education Minister) रह चुके हैं। वहीं, राज्य में जगदीश देवड़ा और राजेश शुक्ला नाम के दो उपमुख्यमंत्री होंगे। मुख्यमंत्री बनाए जाने पर यादव ने केंद्रीय नेतृत्व, प्रदेश नेतृत्व का आभार व्यक्त किया।

मध्य प्रदेश के मनोनीत मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा, “मुझे इतनी बड़ी जिम्मेदारी देने के लिए मैं पीएम मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा, शिवराज सिंह चौहान, वीडी शर्मा को धन्यवाद देता हूं। यह केवल भाजपा पार्टी ही है जो मेरे जैसे छोटे कार्यकर्ता को इतनी बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है। मैं राज्य की विकास यात्रा को आगे बढ़ाऊंगा।”

यादव के परिवार में ख़ुशी का माहौल 

यादव को सीएम बनाए जाने पर उनके परिवार में ख़ुशी का माहौल है। उनके पिताजी पूनम चंद यादव ने कहा कि बेटे को सीएम बनाए जाने पर अच्छा लग रहा है। वहीं,  उनके बेटे ने कहा, “मैं बहुत खुश हूं…”

उनकी पत्नी ने कहा, “भगवान महाकाल का आशीर्वाद है, पार्टी का आशीर्वाद है। वह 1994 से भाजपा के साथ काम कर रहे हैं। वह जब भी उज्जैन आते थे, वह महाकाल की पूजा करने गए थे।” यादव की बहन ने कहा, “हमारी खुशी का ठिकाना नहीं है। हां, उनका नाम चल रहा था लेकिन हमें ठीक से पता नहीं था। भगवान ने उन्हें उनकी मेहनत का फल दिया है।”

मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा, “मैं पूरे नेतृत्व को बधाई देता हूं और ऐसे कार्यकर्ता (मोहन यादव) को चुनने के लिए आभार व्यक्त करता हूं जो विचारधारा के प्रति प्रतिबद्ध हैं और अपनी कड़ी मेहनत से इसके लिए काम करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।” उन्होंने कहा, “बैठक में भाजपा के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश विधायक दल के नए नेता के तौर पर मोहन यादव का नाम प्रस्तावित किया। नरेंद्र सिंह तोमर, कैलाश विजयवर्गीय, प्रह्लाद पटेल और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने प्रस्ताव का समर्थन किया।”

यादव 2013 में पहली बार उज्जैन दक्षिण की सीट से विधायक बने थे। 2018 के मध्य प्रदेश विधान सभाचुनाव में वह एक बार फिर निर्वाचित हुए और उज्जैन दक्षिण सीट से विधायक बने। इससे पहले 2 जुलाई, 2020 को उन्होंने शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली थी।

मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को एक ही चरण में 230 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हुआ और वोटों की गिनती 3 दिसंबर को हुई। भाजपा ने 163 सीटों पर जीत दर्ज की। जबकि, कांग्रेस 66 सीटों पर दूसरे स्थान पर रही।