CM yadav meets Mangubhai
ANI Photo

Loading

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मनोनीत सीएम मोहन यादव (Mohan Yadav) ने सोमवार को राज्यपाल मंगूभाई सी पटेल (Mangubhai C Patel) से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया। भाजपा (BJP) ने सोमवार को उज्जैन (Ujjain) से तीन बार विधायक रहे मोहन यादव को चौहान की जगह मध्य प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री घोषित किया।

इससे पहले, भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने मध्य प्रदेश के राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया। उन्होंने, “मैं कार्यकर्ता हूं कार्यकर्ता रहूंगा, पार्टी के लिए हमेशा काम करूंगा।”

मध्य प्रदेश में जगदीश देवड़ा और राजेश शुक्ला दो उपमुख्यमंत्री होंगे। यादव 2013 में पहली बार उज्जैन दक्षिण की सीट से विधायक बने थे। 2018 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में वह एक बार फिर निर्वाचित हुए और उज्जैन दक्षिण सीट से विधायक बने। इससे पहले 2 जुलाई, 2020 को उन्होंने शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली थी।

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को प्रचंड जीत मिली और कांग्रेस को करारी हार मिली। शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस के विक्रम मस्तल को 1,04,974 मतों के अंतर से हराकर बुधनी सीट से छठी बार जीत हासिल की। लगातार चार बार सीएम रहने वाले शिवराज सिंह चौहान ने पहली बार 1990 में बुधनी विधानसभा सीट से जीत हासिल की थी। फिर साल 2006 में उपचुनाव जीतने के बाद उन्होंने 2008, 2013 और 2018 में यह सीट अपने पास बरकरार रखी। चौहान 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में विदिशा से लोकसभा सांसद भी रहे हैं।

भाजपा ने 17 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव में 230 में से 163 सीट जीतकर कांग्रेस (66 सीट) को दूसरे स्थान पर धकेल दिया और मध्य प्रदेश में अपनी सत्ता बरकरार रखी। नतीजे तीन दिसंबर को घोषित किए गए थे।