औरंगाबाद महानगरपालिका ने 114 अवैध नल कनेक्शन तोड़े

    औरंगाबाद : शहर की पेयजल आपूर्ति ( Drinking Water Supply) में बाधा बन रहे अवैध नल कनेक्शन (Illegal Tap Connection) तोड़ने की कार्रवाई पिछले करीब 8 महीने से जारी है। इसके लिए तीन दलों का गठन प्रशासन द्वारा किया गया है। इस दल के प्रमुख और मुख्य लेखाधिकारी संतोष वाहुले (Santosh Wahule) के मार्गदर्शन में जारी अवैध नल कनेक्शन तोड़ने की कार्रवाई में शहर के बनेवाडी में 114 अवैध नल कनेक्शन तोडे गए। प्रशासन द्वारा जारी इस कार्रवाई से शहर के अवैध नल कनेक्शन धारकों में हड़कंप मचा हुआ है। 

    महानगरपालिका के मुख्य लेखाधिकारी संतोष वाहुले ने बताया कि शहर के बनेवाडी में महानगरपालिका के 150 मिमि मुख्य जलवाहिनी पर बड़े पैमाने पर नागरिकों ने अवैध नल कनेक्शन लिए हुए है। अवैध नल कनेक्शन तोडू दस्ता बनेवाडी में अवैध नल कनेक्शन काटने पहुंचते ही वहां सैकड़ों लोग जमा हुए।  लोगों ने महानगरपालिका प्रशासन की इस कार्रवाई का जमकर विरोध शुरु कर हंगामा करने का प्रयास किया। जिसके चलते वहां तनाव पैदा हुआ। मामले को गंभीरता को देखते हुए महानगरपालिका प्रशासन के अधिकारियों ने पुलिस की मदद से सख्त भूमिका लेते ही अवैध नल कनेक्शन धारक शांत हुए। 

    मुख्य लेखाधिकारी वाहुले द्वारा समझाने के बाद शांत हुए लोग 

    मुख्य लेखाधिकारी संतोष वाहुले ने अवैध नल कनेक्शन धारकों से चर्चा कर लोगों को उनके कनेक्शन वैध करने के लिए समझाया। उन्होंने साफ कहा कि आप लोग सरकारी कार्य में बाधा डालेंगे तो हमें मजबूरन कानूनी कार्रवाई करनी होगी। इसके बावजूद लोगों ने इस कार्रवाई में बाधाएं डालने की बहुत कोशिश की।  परंतु, उनकी यह कोशिश नाकाम रही। उसके बाद यह कार्रवाई दिन भर जारी रही। इस कार्रवाई में महानगरपालिका प्रशासन ने 114 अवैध नल कनेक्शन  काटे। यह कार्रवाई दल के प्रमुख संतोष वाहुले के मार्गदर्शन में उप अभियंता मिलिंद भामरे, रोहित इंगले, कनिष्ठ अभियंता एनवी वीर, सचिन वेलदोडे, किरण तमनार, संतोष खेडकर, लक्ष्मण शेजुल, शेख सिराज, अमित पांडगले, नागरी मित्र दल के कर्मचारी और दल के कर्मचारी मोहम्मद शरीफ, तमिज पठाण, वैभव भटकर, स्वप्रिल पाईकवाडे, सागर डिघोले, तुषार पोट पिल्लेवार, उमेश दाने उपस्थित थे। बता दें कि महानगरपालिका प्रशासन ने अवैध नल कनेक्शन  काटने की मुहिम करीब 8 महीने पूर्व शुरु की थी। शहर को पेयजल आपूर्ति करने वाले जायकवाडी बांध पानी से लबालब भरा होने के बावजूद शहर को 4 से 5 दिन गैप देकर आज भी पेयजल आपूर्ति जारी है। ग्रीष्मकालीन मौसम में अवैध नल कनेक्शन धारकों के चलते लिगल नल कनेक्शन धारकों को पेयजल आपूर्ति करते समय महानगरपालिका प्रशासन के समक्ष कई बाधाएं निर्माण हो रही थी। इन्हीं बाधाओं को दूर करने के लिए महानगरपालिका प्रशासन ने यह कार्रवाई शुरु की है। गत 9 महीने में ढाई हजार से अधिक अवैध नल कनेक्शन काटे जाने की जानकारी महानगरपालिका के मुख्य लेखाधिकारी संतोष वाहुले ने दी।