बारिश से प्रभावित सभी फसलों का किया जाए पंचनामा

    औरंगाबाद. बीते एक पखवाड़े से मराठवाडा (Marathwada)अंचल के करीब 250 राजस्व मंडल में वर्षा सिंचित होने से खरीफ फसलों का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ है। मराठवाडा अंचल के अतिवृष्टि पीडि़त राजस्व मंडल के सभी फसलों का पंचनामा कर किसानों (Farmers) को तत्काल नुकसान का मुआवजा देने की मांग मराठवाडा स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधायक सतीश चव्हाण (MLA Satish Chavan) ने राज्य के राजस्व मंत्री अब्दुल सत्तार (Minister Abdul Sattar) से मुलाकात कर एक ज्ञापन देकर की।

    राज्य के राजस्व राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार ने विधायक सतीश चव्हाण के संपर्क कार्यालय का दौरा किया। इस अवसर पर मराठवाडा में हुई अतिवृष्टि और उससे विविध स्थानों पर टूटे कोल्हापुरी बांध, धंसे हुए पुल, ग्रामीण परिसर के सड़कों की हुई दयनीय अवस्था आदि को लेकर विधायक चव्हाण और राजस्व राज्यमंत्री सत्तार के बीच लंबी चर्चा हुई। 

    राज्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन

    विधायक चव्हाण ने इस बारे में एक ज्ञापन राज्यमंत्री को सौंपा। चालू सप्ताह में संभाग के सभी  जिलों में जोरदार बारिश  हुई। जिससे  फसलों का बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ। नदी-नालों के किनारे स्थित खेती की जमीन पूरी तरह खराब हो गई। संभाग के 250 से अधिक मंडलों में हुई जोरदार बारिश के चलते किसानों के मुंह का निवाला छिन गया है। उडद के फसलों के अलावा मुंग की फसलें भी पूरी तरह प्रभावित हुई। 

    खेती का गणित बिगड़ा

    अतिवृष्टि के चलते कपास, सोयाबीन, मोसंबी के खेत में पानी जमा है। गन्ना, मका, बाजरा की फसलें नष्ट हो चुकी है। कोरोना के चलते पहले ही खेती का गणित बिगड़ा है।वर्षा संचित के  चलते खेती में बुआई के लिए लगाया हुआ खर्च भी न निकलने से विधायक चव्हाण ने राजस्व मंत्री सत्तार को अवगत कराया। इस अवसर पर औरंगाबाद जिला बैंक के चैयरमैन नितिन पाटिल, जिला परिषद के निर्माण कार्य सभापति किशोर बलांडे, सेना जिला प्रमुख नरेन्द्र त्रिवेदी, किरण पाटिल डोणगावंकर, नंदकिशोर सहारे आदि उपस्थित थे।