तिरोड़ा. अदानी विद्युत प्रकल्प तिरोड़ा में कार्यरत एक अभियंता की पत्नी ने घर पर पंखे को फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या की है. यह घटना 27 जून की रात्रि 9.30 बजे घटी. इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंच गए. अदानी विद्युत प्रकल्प में वेणु कोटय्या सिलिवरी (28) अभियंता के रुप में कार्यरत है. वह पत्नी जानकीलक्ष्मी वेणु सिलिवरी (24) के साथ नेहरु वार्ड, तिरोड़ा में किराए के मकान में रहते है. वेणु सिलिवरी हमेशा की तरह दोपहर 2.30 बजे विद्युत प्रकल्प में काम पर गए थे.

इस बीच शाम को उनके पड़ोसी व्यक्ति ने वेणु को फोन कर उनके घर में अंधेरा व दरवाजा बंद होने की जानकारी दी. इस पर वेणु सिलिवरी ने अपनी पत्नी को दो बार फोन लगाया. लेकिन उसने फोन नही उठाया. जिससे वेणु ने अनुमान लगाया कि वह सो रही होगी. यही सोच कर वे अपने काम पर जुट गए. इसके बाद रात 9 बजे पड़ोसी ने उसे पुन: फोन कर घर की विद्युत बंद होने की जानकारी दी.

अपनी ड्युटी से फारिग होकर वेणु रात 9.30 बजे घर पहुंचे तो उन्हें दरवाजा व विद्युत बंद दिखाई दी. उन्होंने पत्नी को आवाज दी लेकिन कोई प्रतिसाद नही मिला. जिससे पड़ोसी व्यक्ति की मदद से दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश किया तो पंखे को रस्सी की सहायता से गले में फांसी लगी पत्नी दिखाई दी. इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई. प्रकरण की जांच थानेदार धमाले के मार्गदर्शन में पुलिस उप निरीक्षक राहुल साबले कर रहे हैं.