किसानों के विकास में फार्मर प्रोड्युसर कंपनी का महत्व

    गोंदिया. राष्ट्रीय कृषि व ग्रामीण विकास बैंक नाबार्ड अंतर्गत श्री गणेश ग्रामीण विकास शिक्षण संस्था द्वारा संचालित महात्मा ज्योतिबा फुले फार्मर प्रोड्युसर कंपनी लि. काटी बिरसोला में किसानों के विकास में फार्मर प्रोड्युसर कंपनी का महत्व इस विषय पर मार्गदर्शन कार्यक्रम आयोजित हुआ. उद‍्घाटन जिलाधीश नयना गुंडे के हस्ते किया गया.

    श्री गणेश ग्रामीण विकास संस्था के सचिव विजय बहेकार, उदय खर्डेनवीस, डा.सय्यद शाकीर अली, अविनाश लाड, राहुल गणवीर, डी.एल.तुमडाम, श्वेता डोंगरे, जगलाल चौधरी आदि उपस्थित थे. जिलाधीश गुंडे ने श्री गणेश ग्रामीण विकास संस्था के कामों की सराहना की. उसी प्रकार जिले का निसर्ग सुंदर है वहीं बारिश भी अच्छी होती है, पानी का संसाधन भरपुर है, सब्जी भाजी व गुड़ के लिए योग्य वातावरण है, जिले में मशरूम भी भरपुर प्रमाण में मिलता है, जिसे बाजार भी उपलब्ध है.

    मशरूम की खेती योग्य तरीके से कर नियोजनबद्ध प्रारूप तैयार कर मशरूम की खेती करें. अपना उत्पादन योग्य तरीके से कर अपना विकास करें. तिरोड़ा तहसील में सीएसआर के माध्यम से अदानी फाउंडेशन व माविम द्वारा चलाए जा रहे कार्यो के बारे में भी बताया गया. विजय बहेकार के हस्ते जलाधीश गुंडे का सत्कार किया गया. नीरज जागरे व अविनाश लाड का सत्कार जिलाधीश गुंडे ने किया. जागरे ने नाबार्ड व किसानों का संबंध कैसा होता है तथा नाबार्ड के कामों का विवरण किया. प्रकल्प समन्वयक डा.सय्यद शाकीर अली ने कहा कि किसान उत्पादक व व्यापारी मानकर अपनी भूमिका निभाए. उन्होंने शाश्वत व विषमुक्त खेती कर अपना विकास करने कहा.

    महात्मा ज्योतिबा फुले फार्मर प्रोड्युसर कंपनी लि. के मुख्य संचालक जगलाल चौधरी ने किसानों की समस्याओं पर प्रकाश डाला. बहेकार ने महात्मा ज्योतिबा फुले फार्मर प्रोड्युसर कंपनी लि. से अपने सदस्य बढ़ाकर शेअर जमा कर अपना विकास साधने व स्मार्ट प्रोजेक्ट के लिए क्या गतिविधि है तथा नाबार्ड द्वारा इक्विटी ग्रांट मांग के संदर्भ में मार्गदर्शन किया. प्रस्तावना गजानन अलोणे ने रखी. संचालन ज्योति टेंभुरकर ने किया व आभार शालु कृपाले ने माना. सफलतार्थ इंद्रजीत चौधरी आदि ने प्रयास किया.