Cleanup Marshal
file

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) में कोरोना (Corona) की तीसरी लहर (Third Wave) नियंत्रण में भले आ गई है, लेकिन इसे पूरी तरह से खत्म करने में अधिक सावधानी बरतने की जरुरत है। तीसरी लहर में भी लोगों की लापरवाही सामने आ रही है। लोग कोरोना नियमों (Corona Rules) का सख्ती से पालन नहीं कर रहे है। इसलिए बीएमसी (BMC) मुंबई में बिना मास्क (Without Mask) लगाए घूमने और कहीं भी थूकने वालों पर कार्रवाई के लिए 1,000 क्लीनअप मार्शल (Cleanup Marshal) की नियुक्ति करने का निर्णय लिया है। प्रत्येक वार्ड में 30 से 60 मार्शल तैयार किए जाएंगे। 

    मार्च 2020 में कोरोना संक्रमण शुरु होने के बाद से ही नियमों का पालन करने के लिए बीएमसी जोर दे रही है। मास्क लगाने, हाथ धोने और सार्वजनिक स्थानों पर थूकने वालों पर  कार्रवाई करना अनिवार्य कर दिया गया था। तब से लेकर बीएमसी नियमों का उल्लंधन करने वालों पर लगातार कार्रवाई कर रही है। इस कार्रवाई को और तेज करने के लिए बीएमसी मार्शलों की संख्या बढ़ाने जा रही है। इससे पहले बीएमसी की तरफ से नियुक्त किए गए क्लीनअप मार्शलों की संख्या 750 थी। जिसमें 250 मार्शल और बढ़ाए जाएंगे।

    अब तक वसूले 87 करोड़ रुपए से अधिक

    कोरोना की शुरुआत से अब तक बिना मास्क के कुल 43 लाख 81 हजार 562 लोगों को पकड़ा गया है जिनसे  87 करोड़ 11 लाख रुपए जुर्माना वसूल किया गया है। इसमें बीएमसी ने 34 लाख 97 हजार 149 लोगों से 69 करोड़ 42 लाख 98 हजार 875 रुपए वसूल किया है।  मुंबई पुलिस की तरफ से 8 लाख 522 लोगों पर कार्रवाई कर 17 करोड़ 21 लाख 4,400 रुपए वसूल किए हैं। जबकि रेलवे की ओर से 23,891 लोगों पर कार्रवाई करते हुए 47लाख 78 हजार 200 रुपए जुर्माना वसूला गया है।