MNS attack Chandivali offices of amazon over marathi language

  • कपंनी पर मराठी भाषा शामिल करने का दवाब
  • मनसे का मराठी राग

मुंबई. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) अध्यक्ष राज ठाकरे (Raj Thakrey) और ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी अमेजन (Amazon) के बीच मराठी भाषा को लेकर लड़ाई तेज हो गई है. शुक्रवार को मनसे कार्यकर्ताओं ने चांदीवली (Chandivali) के गोदाम पर हमला बोल दिया. पार्टी अमेजन से उनकी वेबसाइट और एप पर मराठी भाषा को शामिल करने की मांग कर रही है. इस मामले को लेकर अमेजन ने दिंडोशी सिविल कोर्ट में याचिका दायर की है. 

कोर्ट ने अपने आदेश में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे को नोटिस भेजकर 5 जनवरी को अदालत में हाजिर होने का आदेश दिया है. कोर्ट के इस आदेश से पार्टी कार्यकर्ताओं में भारी नाराजगी है. सबसे पहले मनसे कार्यकर्ताओं ने पुणे में अमेजन की ऑफिस पर हमला बोला. वहीं, अब मुंबई के चांदीवली स्थित कंपनी के गोदाम को निशाना बनाया गया है. दिंडोशी कोर्ट ने मनसे को कंपनी और उसके कर्मचारियों के काम में हस्तक्षेप नहीं करने का निर्देश दिया है. 

अमेजन ने सुरक्षा लेने के लिए अदालत में गुहार लगाई थी

मनसे ने अपनी इस मांग को लेकर मुंबई में कई जगहों पर होर्डिंग लगा दिए हैं और मराठी पर जोर देते हुए अमेजन को चेतावनी भी दी है. मनसे की धमकी को देखते हुए अमेजन ने सुरक्षा लेने के लिए अदालत में गुहार लगाई थी. अमेजन की याचिका पर दिंडोशी कोर्ट ने राज ठाकरे और अन्य पार्टी पदाधिकारियों को नोटिस जारी किए हैं. कोर्ट ने 13 जनवरी तक मनसे को उनके खिलाफ आरोपों पर हलफनामा दायर करने के भी निर्देश दिए हैं.