High voltage drama between police and accused in MP, person trying to escape from custody got shot
Representative Photo

    मुंबई: अंधेरी पुलिस (Andheri Police) ने डुप्लीकेट चाबी (Duplicate Key) की मदद लेकर मेडिकल स्टोर (Medical Store) के लॉकर में रखे एक लाख रुपये नकद की चोरी करने वाले मेडिकल स्टोर के 24 वर्षीय पूर्व कर्मचारी को नालासोपारा से वारदात के 24 घंटे के भीतर ही गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, दुकान की सफाई के दौरान आरोपी ने असली चाबी की छाप साबुन से बनाकर उसकी डुप्लीकेट चाबी बनाई थी। 

    अंधेरी पुलिस स्टेशन के पुलिस उप-निरीक्षक दिगंबर पागर ने बताया की घटना 5 दिसंबर की थी और दुकान में लगे क्लोज-सर्किट टेलीविजन (सीसीटीवी) में कैद एक सफेद टी-शर्ट और नकाब से ढका चेहरे ने आरोपी की पहचान अजय गुप्ता (24) के रूप में की थी।  वोरा मेडिकल के मालिक मुकेश वोरा (59) ने सोमवार सुबह दुकान के लॉकर से पैसे गायब होने पर शिकायत दर्ज कराई थी।गुप्ता ने तीन साल पहले नौकरी छोड़ने से पहले वोरा मेडिकल्स में कार्यरत था। 

    पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से किया अरेस्ट

    पुलिस उपायुक्त (जोन-10) महेश्वर रेड्डी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी अजय गुप्ता डुप्लीकेट चाबी का उपयोग कर चोरी करने का एक अवसर तलाश रहा था क्योंकि उसे दुकान में नकदी कहां रखी है के बारे में पता था। गुप्ता ने 5 दिसंबर की रात करीब 11 बजे डुप्लीकेट चाबी की मदद से दुकान में घुस गया और वारदात को अंजाम देने के बाद वहां से चला गया। चोरी करने के बाद जब वह दुकान से निकला तो उसने अपना चेहरा ढक रखा था। सुबह दुकान खोलने के बाद जब मालिक ने लॉकर देखा तब उन्हें चोरी का अहसास हुआ और फिर शिकायत दर्ज कराई और पुलिस ने उसे सीसीटीवी की मदद से गिरफ्तार कर लिया है।