File Photo
File Photo

    नागपुर. पेट्रोल की दर में आग लगी हुई है और महंगाई भी रिकॉर्ड तोड़ रही है. बावजूद इसके सिटी में ऑटो चालक अब भी 10 से 12 वर्ष पूराने टैरिफ दरों पर ही चल रहे हैं. ऐसे में प्रादेशिक परिवहन कार्यालय को चाहिए कि तत्काल प्रभाव से समय के अनुसार नया टैरिफ दर लागू किया जाये. इस मांग के साथ विदर्भ ऑटो रिक्शा चालक फेडरेशन के अध्यक्ष विलास भालेकर के नेतृत्व में आरटीओ अधिकारी रविन्द्र भुयार को ज्ञापन सौंपा गया है.

    भालेकर ने भुयार से कहा कि यह बताने का विषय नहीं रहा कि पेट्रोल और डीजल की दरों में किस हद तक वृद्धि रही है. अच्छी-खास आय वाले सरकारी कर्मचारी और अधिकारियों को भी वाहन का टैंक भरने में पसीने छूट रहे हैं. दूसरी तरफ सुखी रोटी खाने वाला ऑटो चालक अब भी 10 वर्ष से ज्यादा टैरिफ पर ऑटो चला रहे हैं.

    यदि वे अपने मन से किराया बढ़ा दें तो उन पर कार्यवाही जाये. इसलिए हमारी मांग है कि परिवहन विभाग जल्द से जल्द इस विषय पर ध्यान दे और बढ़ी हुई नई दरों के साथ टैरिफ लागू करें. सारी बात सुनने के बाद भुयार ने उचित निर्णय का आश्वासन दिया.

    इस दौरान भालेकर के अलावा प्रिंस इंगोले, आतिश शेंडे, जावेद शेख, रवि सुखदेवे, सैयद रिजवान, अशोक न्यायखोर, एजाज शेख, आनंद मानकर, मुश्ताक खान, राजकुमार शाहू, सुनील भोकरे समेत संगठन के विभिन्न सदस्यों की उपस्थिति रही.