Sharad Pawar
शरद पवार (फाइल फोटो)

Loading

नवभारत न्यूज़ नेटवर्क
नागपुर:
इस बार देश की जनता केंद्र में परिवर्तन चाह रही है। जनमत का मूड पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ है। यह बात राकां अध्यक्ष शरद पवार ने मंगलवार को नागपुर में मीडिया से बातचीत में कही। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवार ने कहा कि मैं साफ देख रहा हूं कि लोगों का मूड बदल गया है। यह अब पीएम मोदी के खिलाफ है, ऐसे में इस बार परिवर्तन के संकेत मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा बीजेपी सरकार के शासन में संस्थाओं पर हमले हो रहे हैं। जो भी शख्स सरकार के खिलाफ आवाज़ उठाने की कोशिश करता है, उसे प्रताड़ित किया जा रहा है। राकां अध्यक्ष ने आप पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह को जमानत दिए जाने पर कहा कि यह अच्छी बात है। उनके साथ अन्याय हुआ। अब असली तस्वीर सामने आएगी।

विपक्ष की तरफ से पीएम का चेहरा तय नहीं
पवार ने कहा कि फ़िलहाल विपक्ष की इंडिया गठबंधन ने यह तय नहीं किया है कि उनकी तरफ से पीएम पद का चेहरा कौन होगा। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद इस बारे में निर्णय लिया जाएगा। फ़िलहाल हम सभी की कोशिश ज्यादा से ज्यादा सांसदों को जीता कर लाने की है।

बारामती में जनता तय करेगी फैसला
राकां अध्यक्ष ने कहा कि बारामती में फैसला वहां की जनता तय करेगी। ऐसे में हम सबको इंतजार करना होगा। मुझे विश्वास है कि लोग भाजपा को हराने में सक्षम उम्मीदवारों को वोट देंगे। इस सीट पर राकां सांसद सुप्रिया सुले का मुकाबला अपनी भाभी व डिप्टी सीएम अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा पवार से है।

पीएम मोदी सभी पहलुओं में बुद्धिमान
पीएम मोदी ने अपनी सरकार के तीसरे कार्यकाल के पहले 100 दिनों में किए जाने वाले कामों के लिए एक योजना बनाई है। इस बारे में पवार ने कहा कि मोदी सभी पहलुओं में बुद्धिमान हैं। चीन द्वारा अरुणाचल प्रदेश में स्थानों का एकतरफा नाम बदलने के सवाल पर पूर्व रक्षा मंत्री ने कहा कि मौजूदा सरकार राष्ट्रीय हितों को गंभीरता से नहीं ले रही है।