File - Photo
File - Photo

    नासिक : हवाई परिवहन (Air Transport) सबसे महंगा है और जल परिवहन (Water Transport) सड़कों की तुलना में बहुत सस्ता है, इसलिए इस पर अधिक काम करने का निर्णय राज्य सरकार (State Government) की ओर से लिया गया है। इस निर्णय के आधार पर राज्य में जल परिवहन नीति तैयार की जाएगी, जिसके तहत नाशिकर में जल परिवहन को शामिल किया जाएगा, ऐसी जानकारी नासिक के पालक मंत्री दादा भूसे (Foster Minister Dada Bhuse) ने दी। उन्होंने कहा कि नासिक के धार्मिक, कृषि और साहसिक पर्यटन के साथ-साथ बांधों और नदियों के माध्यम से हाउस नौका भी चलाने का विचार जा रहा है और बहुत ही जल्द नासिक में यह सुविधा शुरु हो जाएगी। पालक मंत्री ने बताया ‘हॉलीडे कार्निवाल’ के कार्यक्रम में बोल रहे थे। 

    ट्रैवल एजेंट्स एसोसिएशन ऑफ नासिक (टीएएन) ने 20 से 22 जनवरी तक ओल्ड गंगापुर नाका इलाके के चोपड़ा लॉन में ‘हॉलिडे कार्निवल’ का आयोजन किया है। भूसे ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण पर्यटन व्यवसाय में आई बाधाएं अब दूर हो गई हैं, इस कारण घरेलू और विदेशी पर्यटन फिर से शुरु हो गया है। भूसे ने बताया कि इस कार्यक्रम में 60 से अधिक पर्यटन व्यवसायी भाग ले रहे हैं और नासिक के लोगों को वाणिज्यिक, शैक्षिक, धार्मिक, आध्यात्मिक, कृषि पर्यटन की जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है। पालक मंत्री ने बताया कि रिंग रोड, स्वच्छ जल, स्वास्थ्य पर जोर देने के साथ-साथ सिंहस्थ कुंभ मेले को देखते हुए प्रशासन के साथ सरकार ने नासिक में रणनीति बनानी शुरू कर दी है। 

    केंद्र और राज्य से भारी धनराशि प्रदान की जाएगी

    जिले के पालक मंत्री ने कहा कि बढ़ते शहरीकरण में ट्रैफिक प्लानिंग बहुत अहम होने वाली है, इसके लिए रिंग रोड का काम शुरू कर दिया गया है और कुंभ मेले में साफ पानी देने के बारे में व्यापक स्तर पर विचार-विमर्श जारी है। भूसे ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं पर विशेष जोर दिया जा रहा है, जिसके लिए केंद्र और राज्य से भारी धनराशि प्रदान की जाएगी। 

    इन की थी उपस्थिति

    भुसे ने कहा कि कुंभ मेले तक नासिक शहर में कई विकास कार्य होंगे तथा कुंभ मेले में आने वाले लोगों को अधिक से अधिक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।  उद्घाटन कार्यक्रम में शिवसेना (शिंदे ग्रुप) के जिला अध्यक्ष अजय बोरास्ते, सागर वाघचौरे, मनोज वासवानी, अरुण सूर्यवंशी, सचित लोनारी, अमित चंदेल, इशान जोशी, अंबरीश मोरे, बृजमोहन चौधरी, संजय कदम आदि उपस्थित थे। 

    नासिक में उड्डयन, पर्यटन, वाइनरी, रिसार्ट, धार्मिक, कृषि और अन्य पर्यटन से जुड़े मुद्दों को 'तान' ने उठाया। इस दौरान कहा गया कि अपने सवालों, रिक्शा से लेकर हवाई परिवहन के मुद्दों के बारे में एक योजना बनाएं।

    - दादा भूसे, पालक मंत्री, नासिक