Elections to 27 gram panchayats of Ambernath taluka on 15 January

    पुणे: पुणे जिले (Pune District) के 303 ग्राम पंचायतों के चुनाव ( Gram Panchayat Elections) के लिए आवश्यक प्रभाग रचना 24 मई को फाइनल करने और 27 मई को फाइनल प्रभाग रचना की घोषणा करने का आदेश राज्य चुनाव आयोग (State Election Commission) के सचिव किरण कुरुंदकर ने पुणे के जिलाधिकारी डॉ. राजेश देशमुख को दिया है। दी गई अवधि में यह प्रभाग रचना फाइनल करने के लिए ग्राम पंचायत प्रभाग रचना से पहले अधूरे कार्य पूरा करने की आयोग ने परमिशन दी है।

    इस परमिशन के कारण इसे लेकर नई आपत्तियां और सुझाव नहीं मंगाए जाएंगे। इससे पहले प्राप्त हुई आपत्तियों और सुझावों पर सुनवाई करने का रास्ता साफ हो गया है। इसके आधार पर जिलाधिकारी डॉ. देशमुख ने मंगलवार से ग्राम पंचायत प्रभाग रचना की आपत्तियों पर सुनवाई की शुरुआत की है। शुक्रवार 13 मई तक यह सुनवाई पूरी की जाएगी। यह जानकारी जिलाधिकारी कार्यालय के ग्राम पंचायत चुनाव शाखा की तरफ से दी गई है।

    राज्य सरकार ने चुनाव का अधिकार अपने हाथ में लिया था

    राज्य चुनाव आयोग ने इससे पूर्व नवंबर 2021 में ग्राम पंचायत की प्रभाग रचना और आरक्षण सुनिश्चित करने के निर्देश दिया था। इसके अनुसार प्रारूप प्रभाग रचना घोषित कर उस पर आपत्तियां और सुझाव मंगाए गए थे। आपत्तियां और सुझाव मंगाए जाने की अवधि समाप्त होने के बाद राज्य सरकार ने अलग से कानून बनाकर, पंचायत राज संस्थाओं के चुनाव का अधिकार अपने हाथ में ले लिया था। राज्य सरकार के इस निर्णय की वजह ये चुनाव आयोग द्वारा शुरु की गई प्रभाग रचना कार्यक्रम स्थगित कर दी गई थी। तभी से यह कार्यक्रम ठन्डे बस्ते में चली गई। इस बीच पंचायती राज संस्था के चुनाव का अधिकार फिर से एक बार राज्य चुनाव आयोग के पास आने के बाद, चुनाव आयोग ने ग्राम पंचायत प्रभाग रचना की पूर्व की स्थगित कार्यक्रम आगे जारी रखने का निर्णय लिया। इस निर्णय पर आयोग ने तत्काल अमल शुरू कर दिया है।

    ग्राम पंचायत की ही पहली प्रभाग रचना

    इस प्रभाग रचना में पुणे जिले में जनवरी 2021 से दिसंबर 2022 इन दो वर्षों में अवधि समाप्त हो चुके 286 और नये स्थापित हुए 17, कुल मिलाकर 303 ग्राम पंचायत शामिल है। नए स्थापित हुए ग्राम पंचायत की ही पहली प्रभाग रचना होगी। शेष 286 में से 2021 में अवधि समाप्त हो चुके 58 और दिसंबर 2022 के आखिर में अवधि समाप्त हो चुके 228 ग्राम पंचायत शामिल हैं।