Report of any traveler returned to Pune from abroad is not positive Mayor Muralidhar Mohol

पुणे. नए स्ट्रेन को लेकर लोगों ने घबराने की कोई जरुरत नहीं है क्योंकि पुणे (Pune) या राज्य में ऐसा कोई मरीज (Patient) नहीं मिला है। विदेश (Foreign)से पुणे लौटे किसी भी यात्री की रिपोर्ट पॉजिटिव (Positive) नहीं आई है। चेन्नई (Chennai) के मरीज का पुणे में स्वैब लिया था, लेकिन वह पुणे का नहीं है। महानगरपालिका द्वारा सभी उपाय योजनाएं की जा रही है। नए साल का स्वागत करते समय हमें सतर्क रहना है। पिछले 8-10 महीनों से पुणेकरों ने हमें खासा सहयोग दिया है। अब भी नागरिक हमें मदद करेंगे। साथ ही इस संकट का हम मिलकर सामना करेंगे। यह विश्वास पुणे के महापौर मुरलीधर मोहोल (Mayor Muralidhar Mohol) ने पुणवासियों को दिलाया है।

महापौर ने कहा कि इंग्लैंड और अन्य यूरोपीय देशों से लौटकर आए लोगों की जांच में एक नागरिक में कोरोना के नए स्ट्रेन होने की खबरें सामने आ रही है। अभी तक विदेश से आए 100 से अधिक नागरिकों का पता चला है। ऐसे लोगों से मनपा से संपर्क करने की अपील महापौर मुरलीधर मोहोल ने की है।

270 की जांच में नहीं मिला नया स्ट्रेन

उन्होंने कहा कि पुणे में इग्लैंड या अन्य यूरोपियन देशों से 25 नवंबर के बाद 542 यात्री शहर में आए हुए हैं। इनमें से 270 लोगों की जांच की गई। उनकी जांच रिपोर्ट में एक भी नागरिक में नया स्ट्रेन होने की पुष्टि नहीं हुई है। पुणे के नेशनल वायरोलॉजी संस्थान में सैंपल की जांच में एक व्यक्ति की रिपोर्ट में नया स्ट्रेन होने की पुष्टि की गई है। यह व्यक्ति चेन्नई का है। महापौर मोहोल ने कहा है कि जो नागरिक पुणे वापस आए है, उनमें से एक भी नागरिक को नया स्ट्रेन नहीं है।

 रिपोर्ट आने में 10 दिन लगेंगे

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि इंग्लैंड से आए औंध के एक युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इस युवक की एनआईवी से फिर से जांच कराई गई तो वह फिर से पॉजिटिव मिला। उसे इग्लैंड का नया स्ट्रेन हुआ है क्या? इसकी जांच की जा रही है। उसकी रिपोर्ट आने में दस दिन लगेंगे।