21 people hanged in Iraq in one day, convicted under anti-terrorism law

    पिंपरी. कॉलगर्ल (Call Girl) के तौर पर एक महिला डॉक्टर का नाम, नंबर और फोटो अपलोड (Upload) किया गया। गूगल (Google) पर सर्च करने पर उस डॉक्टर का फोटो और नंबर आ जाता, इसके बाद उसे कई फोन भी आने लगे। इससे परेशान होकर तनावग्रस्त महिला डॉक्टर (Doctor) ने खुदकुशी (Commit Suicide) करने की ठानी। उसने खुदकुशी करने के बारे में पिंपरी चिंचवड़ पुलिस (Pimpri Chinchwad Police) के अति वरिष्ठ अधिकारी को मैसेज भेजा। इसके बाद पुलिस ने समय रहते  महिला को गलत कदम उठाने से रोक लिया और उसकी जान बच गई।

    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, इस महिला डॉक्टर का फोटो और मोबाइल नंबर  किसी ने कॉलगर्ल के रूप में एक वेबसाइट पर अपलोड कर दिया था। गूगल पर कॉलगर्ल सर्च करने पर डॉक्टर का मोबाइल नंबर और उसकी फोटो आ जाती। इसके बाद उसे लगातार फोन आने लगे। इससे यह महिला काफी तनाव से गुजर रही थी। इसी तनाव में उसने खुदकुशी करने का निश्चय किया। हालांकि इससे पहले उसने पिंपरी चिंचवड़ पुलिस आयुक्तालय के एक अति वरिष्ठ अधिकारी को मैसेज भेजकर खुदकुशी करने जाने की बात कही। इसके बाद महकमे में खलबली मच गई।

    वरिष्ठ अधिकारी ने सांगवी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुनील टोनपे और महिला पुलिस अधिकारी कविता रूपनर को इसकी सूचना दी और तत्काल कदम उठाने को कहा। ये दोनों अधिकारी संबंधित घटनास्थल पर पहुंचकर उस महिला डॉक्टर को समझाया और उसे आत्महत्या करने से रोका। जब उससे वजह पता चली तब पुलिस भी चौंक गई। इसके बाद महिला डॉक्टर ने सायबर पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने गूगल को ईमेल भेजकर महिला का फोटो और नबंर हटाने को कहा है।