वंचित बहुजन मोर्चे में फूट, धनंजय सुर्वे NCP में शामिल

अंबरनाथ. अंबरनाथ में वंचित बहुजन आघाडी (Vanchit Bahujan Aghadi) के नेता, नपा के पूर्व नगरसेवक धनंजय सुर्वे (Corporator Dhananjay Surve) अपने समर्थकों के राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) में शामिल हो गए हैं। बुधवार को मुंबई में आयोजित पार्टी के एक कार्यक्रम के मौके पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar), प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल (State President Jayant Patil) की उपस्थिति में उपस्थिति में सुर्वे ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) का दामन थामा।

सुर्वे ने वंचित बहुजन आघाडी (Vanchit Bahujan Aghadi) के टिकट पर अंबरनाथ विधानसभा क्षेत्र (Ambernath Assembly Constituency) से विधानसभा का चुनाव लड़ा था और इसमें उन्हें अच्छे वोट भी मिले थे। आगामी एक से दो महीने में अंबरनाथ नगरपालिका (Ambernath municipality) के आम चुनाव होने हैं।

नपा के चुनाव से पहले ही  वंचित बहुजन आघाडी में आंतरिक विवाद उभरकर सामने आ रहे हैं, उसमें धनंजय सुर्वे का आघाडी से बाहर निकलना सबसे बड़ा उदाहरण है। कहा जा रहा है कि पार्टी के लिए काम करने के बावजूद कई नेताओं को नियुक्ति पत्र या पद नहीं दिए गए हैं। जबकि पार्टी ने उल्हासनगर शहर के अध्यक्ष के नाम की घोषणा कर दी है, लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं द्वारा अंबरनाथ की अनदेखी की गई है। 

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar), राकां अध्यक्ष जयंत पाटिल, सांसद सुप्रिया सुले,  मंत्री क्रमशः जितेंद्र आव्हाड, नवाब मलिक, छगन भुजबल, राकां के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रमोद हिंदूराव, अंबरनाथ शहर के अध्यक्ष सदाशिव पाटिल और अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में धनंजय सुर्वे, वरिष्ठ कार्यकर्ता सुधाकर बर्वे, संजय बंसल, सत्यजीत गायकवाड़, राजेश बंसोडे और उनके समर्थक राकांपल में शामिल हुए।  धनंजय सुर्वे के एनसीपी में प्रवेश के बाद, शहर अध्यक्ष सदाशिव पाटिल ने सुर्वे को अंबरनाथ शहर का महासचिव नियुक्त किया है।