woman Home guard burns herself

  • खुद को जलाने की घटना का रहस्य बरकरार

वर्धा. महिला होमगार्ड आत्महत्या मामले की गुत्थी दूसरे दिन भी बरकरार रही. होमगार्ड ने पुलिस कालोनी में जाकर पुलिसकर्मी के निवास स्थान के समक्ष स्वयं को जला लिया था. महिला ने यह कदम क्यों उठाया यह रहस्य बरकरार है. मृत महिला के परिजनों ने उसकी आत्महत्या को लेकर चुप्पी साधने के कारण अनेक सवाल उठने लगे है. वहीं पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर ने इस मामले की विभागीय जांच के आदेश देकर यह मामला संगीन होने की ओर संकेत दिया है. मृतक महिला होमगार्ड पेट्रोल अपने साथ लेकर गई थी की, वहां पर उसे पेट्रोल मिला यह भी संशोधन का विषय है. 

परिजनों ने थाने में शिकायत नहीं दी 

घटना रात 8.30 बजे के दरमियान की बताई गई है. इस दौरान पुलिस कालोनी में चहल पहल थी. फिर अंजलि  रमेश  मैंद (31) ने  स्वयं को कैसे आग के हवाले कर दिया. इस मामले में पुलिसकर्मी नवनाथ मुंडे का नाम सामने आया है. घटना के उपरांत इस मामले में मृतका के परिजनों ने शिकायत दर्ज नहीं की है, जिससे यह मामला अलग मोड पर आया है. नागपुर में उत्तरीय जांच होने के बाद मृतका शव उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया. मंगलवार को मृतक पर दाह संस्कार किया गया.

पुलिस जांच पर टीकी है सभी की नजरें

इस मामले में किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज नहीं होने के कारण पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर ने अपराध शाखा में कार्यरत पुलिसकर्मी नवनाथ मुंडे का हेड क्वार्टर में तबादला करके विभागीय जांच के आदेश दिये है. पुलिस अधीक्षक उक्त जांच के आदेश देने के कारण पुलिस महकमे में अलग-अलग चर्चाएं चल रही है. पुलिस अधीक्षक ने यह जांच के आदेश क्यों दिये, इस प्रकरण में मुंडे की भूमिका क्या है. ऐसे अनेक प्रश्न उपस्थित होने लगे है. वहीं पुलिस कालोनी में यह हादसा होने के कारण पुलिस प्रतिमा पर भी दाग लग गया है. विभागीय जांच निष्पक्ष हुई तो इस मामले सच्चाई सामने आ सकती है.

अब यह प्रकरण लेगा नया मोड

महिला होमगार्ड मामला अलग मोड लेने की दबी आवाज में पुलिस विभाग में चर्चा है. इसकी भनक पुलिस अधीक्षक को लगने के कारण उन्होंने विभागीय जांच के आदेश दिये है. नवनाथ मुंडे व मृतक के कैसे संबध थे. इसकी भी जानकारी ली जा रही है. अचानक मुंडे के घर सामने जाकर अंजलि ने आत्मदाह करने का फैसला लेना यह भी अलग दिशा में संकेत दे रहा है. मृतक के परिजन इस मामले को लेकर क्यों एक्शन नहीं ले रहे है. ऐसे अनेक पहलुओं गुत्थी पुलिस जांच में सुलझ सकती है.