Arrested
File Photo

कारंजा घाड़गे. तहसील के किन्हाला में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत भ्रष्टाचार प्रकरण में फरार ग्रामसेवक अविनाश कांबले को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. प्रकरण में अभी भी सेवानिवृत्त सहायक अभियंता नारायण खेरडे व ठेकेदार रामेश्वर सोमकुंवर फरार है. इस प्रकरण में तीनों आरोपियों को नागपुर उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए आवेदन दाखिल किया था, जो न्यायालय ने खारिज कर दिया है. प्रकरण में 4 लाख 30 हजार रुपए की हेराफेरी की गई.

प्रकरण उजागर होने के बाद शिकायत रोजगार गारंटी योजना के आयुक्त के पास की गई. वर्ष 2019-20 में रोजगार गारंटी योजना के अंतर्गत काम पर जून, जुलाई, अगस्त में काम करने की बात दिखाकर उपस्थिति पत्रक निकाला गया, परंतु उस जगह काम दिखाया, जहां प्रत्यक्ष काम ही नहीं हुआ. डुप्लीकेट जॉब कार्ड तैयार कर दूसरे व्यक्ति के बैंक खाते से वेतन उठाने का आरोप भी किया गया था. प्रकरण में बुधवार को पुलिस ने फरार ग्रामसेवक अविनाश कांबले को गिरफ्तार किया.