jawad

    नयी दिल्ली. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अब कहा है कि चक्रवाती तूफान ‘जवाद’ (Cyclone Jawad) बीते शनिवार को कमजोर होकर एक गहरे दबाव में बदल गया तथा आज रविवार (Sunday) को पुरी पहुंचने तक इसके और भी कमजोर पड़ने की संभावना है। गौरतलब है कि  यह आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लिए राहत की बात है। 

    Odisha | Moderate rain/thundershowers with one or two intense/heavy spells of rain likely to affect some parts of districts of Ganjam, Puri, Khorda, Jagatsinghpur, Kendrapara, Cuttack during the next three hours: Meteorological Centre, Bhubaneswar #CycloneJawad

    — ANI (@ANI) December 5, 2021

    p style=”text-align: justify;”>हालांकि IMD ने कहा है कि, आज यानी रविवार को पश्चिम बंगाल में गंगा के तटों से लगते क्षेत्रों और उत्तरी ओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा तथा रविवार और आगामी सोमवार को असम, मेघालय और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा का पूर्वानुमान व्यक्त किया है. इसके साथ ही IMD ने रविवार तक बंगाल की मध्य और उत्तरी खाड़ी में नौवहन और मछुआरों के लिए समुद्री स्थिति प्रतिकूल रहेगी ऐसा IMD बताया है ।

    IMD ने अपने एक बयान में कहा कि चक्रवाती तूफान कमजोर होकर एक गहरे दबाव में बदल गया है और यह शाम 5:30 बजे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर, विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश से लगभग 180 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व में और पुरी, ओडिशा से 330 किमी दक्षिण-दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित थानयी दिल्ली. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अब कहा है कि चक्रवाती तूफान ‘जवाद’ बीते शनिवार को कमजोर होकर एक गहरे दबाव में बदल गया तथा आज रविवार को पुरी पहुंचने तक इसके और भी कमजोर पड़ने की संभावना है। गौरतलब है कि  यह आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लिए राहत की बात है। 

    इसके साथ ही NDRF  के डीजी, अतुल करवाल ने बीते शनिवार को कहा था कि, ” NDRF की 52 टीमें तैनात हैं और 12 टीमें रिजर्व हैं। बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में ज़रूरत के मुताबिक टीम भेजी गई हैं। हमने पूरी तैयारी कर ली है। IMD की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक चक्रवाती तूफान जवाद की ताकत पहले से कम हो रही है।”