Yogi Adityanath
File Pic

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्‍य में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार के मंत्रिमंडल का रविवार शाम को विस्तार (Cabinet Expansion) होगा।

    राजभवन से अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इससे लंबे समय से मंत्रिमंडल के विस्तार की अटकलों को अब विराम मिल गया। राजभवन से मिली सूचना के अनुसार रविवार शाम साढ़े पांच बजे मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा और शपथ ग्रहण कार्यक्रम राजभवन के गांधी सभागार में होगा।

    ये नेता ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ

    गौरतलब है कि किसान सम्मेलन के बाद यूपी कैबिनेट का आज विस्तार होगा। इसमें 6 से 7 नए मंत्री बनाए जा सकते हैं। जितिन प्रसाद (Jitin Prasad), संगीता बलवंत बिंद (Sangeeta Balwant Bind), छत्रपाल गंगवार (Chhatrapal Gangwar), संजय गौड़, धर्मवीर प्रजापति, पलटूराम और तेजपाल नागर (Tejpal Nagar) को मंत्री बनाया जा सकता है। बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) और एके शर्मा (AK Sharma) के नाम पर भी फिलहाल चर्चा हो रही है।

    जातीय समीकरण को किया जाएगा दुरुस्त 

    यूपी में विधान सभा चुनाव से पहले बीजेपी जातीय समीकरण को साधना चाहती है। मंत्री बनने की रेस में जितिन प्रसाद का नाम आगे है। वहीं गाजीपुर की सदर सीट से विधायक संगीता बलवंत बिंद को भी मंत्री बनाया जा सकता है। इससे बीजेपी निषाद समाज को खुश करने की कोशिश करेगी। वहीं तेजपाल नागर  को भी मंत्री बनाकर BJP, गुर्जर समाज को साधने की कोशिश कर सकती है।

    मौजूदा समय में राज्य सरकार में मुख्यमंत्री समेत 23 कैबिनेट मंत्री, नौ स्‍वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री और 21 राज्य मंत्री हैं। राज्य विधानसभा में सदस्‍यों की संख्‍या 403 होने की वजह से नियमानुसार 60 मंत्री बनाये जा सकते हैं, लेकिन मौजूदा समय में सिर्फ 53 मंत्री हैं और सात पद खाली हैं। उत्तर प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार व फेरबदल के बाद से ही बढ़ गई थी।