Former Foreign Minister of Japan Fumio Kishida will be the next Prime Minister, won the election for the post of leader of the party
File

    तोक्यो: जापान (Japan) में जारी सियासी संकट ख़त्म हो चूका है। जापान में प्रधानमंत्री (Prime Minister) पद की दौड़ में शामिल देश के पूर्व विदेश मंत्री फूमिओ किशिदा (Fumio Kishida) ने सत्तारूढ़ पार्टी के नेता पद का चुनाव (Elections) जीत लिया है। इसके बाद उनका जापान का नया प्रधानमंत्री बनना तय हो गया है। जापान में प्रधानमंत्री पद की दौड़ में फूमिओ किशिदा के अलावा, टीकाकरण मंत्री तारो कोनो, साने ताकाइची और सेको नोडा भी थीं।  

    साने ताकाइची और सेको नोडा पिछले 13 साल में देश की पहली महिलाएं हैं, जिन्होंने प्रधानमंत्री पद के चुनाव में सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) के नेतृत्व के लिए अपनी दावेदारी पेश की थी। इससे पहले जापान में एकमात्र महिला उम्मीदवार युरिको कोइके थीं, जो 2008 के चुनाव में उम्मीदवार थीं। वह इस समय तोक्यो की गवर्नर हैं। 

    निवर्तमान प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा का उत्तराधिकारी बनने के लिए जापान के अगले प्रधानमंत्री की दौड़ में शामिल चार उम्मीदवारों में से दो महिलाओं का होना एक बड़ी चुनौती मानी जा रही थी। फुमिओ किशिदा को टीकाकरण मंत्री तारो कोनो समेत दो महिलाओं को पीछे छोड़ जापान का प्रधानमंत्री बनना काफी चुनौतीपूर्ण माना जा रहा था। 

    अब किशिदा पार्टी के निवर्तमान नेता और प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा का स्थान लेंगे। पिछले साल सितंबर में पद संभालने के महज एक साल बाद ही सुगा पद छोड़ रहे हैं। लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के नए नेता के तौर पर किशिदा का संसद में सोमवार को अगला प्रधानमंत्री चुना जाना तय है। 

    किशिदा ने पार्टी के नेता पद के मुकाबले में टीकाकरण मंत्री तारो कोनो को हराया। पहले चरण में उन्होंने दो महिला उम्मीदवारों सना तकाइची और सेइको नोडा को पराजित किया था। 

    (एजेंसी इनपुट्स के साथ)