Santa Claus distributes gifts in Belgium, corona spread in care home, 18 dead, 157 sick
Representative Image

ब्रसेल्स: बेल्जियम (Belgium) के एक केयर होम (Care Home) में बड़ा लापरवाही का मामला सामने आया है। क्रिसमस (Christmas) के मौके पर केयर होम में रहने वाले लोगों को सांता क्लाज (Santa Claus) से गिफ्ट लेना भारी पड़ गया। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सांता क्लॉज के कोरोना (Corona) संक्रमित था और उसके संपर्क में आए 121 लोग और केयर होम के 36 स्टाफ मेंबर संक्रमित हो गए हैं, इनमें से 18 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।

सांता क्लॉज कोरोना से संक्रमित था  

रिपोर्ट के अनुसार, बेल्जियम (Belgium) के एन्टवर्प (Antwerp) के केयर होम के कर्मचारी वहां रहने वाले बुजुर्गों (Aged) के साथ क्रिसमस मानना चाहते थे और कोरोना के दौर में केयर होम में रहनेवाले लोगों का मनोबल बढ़ाना चाहते थे, जिसके लिए उन्होंने सांता क्लॉज (Santa Claus) को बुलवाकर उनके हाथों से बुजुर्गों को गिफ्ट दिलवाने का प्लान किया था। इसके लिए उन्होंने केयर होम के लोगों की देखभाल करने वाले एक डॉक्टर (Doctor) को सांता क्लॉज बनाया था। बाद में पता चला की सांता क्लॉज कोरोना से संक्रमित था। 

प्लान था सांता क्लॉज बुजुर्गों के साथ बिताएगा समय और बांटेगा गिफ्ट्स

केयर होम ने प्लान किया था कि सांता क्लॉज केयर होम में रहनेवाले लोगों के साथ कुछ समय बिताएगा और उन्हें  हाथों से गिफ्ट बांटेगा। रिपोर्ट के मुताबिक, सांता क्लॉज की तबियत उस दिन ठीक  नहीं थी और वे नहीं जानता था कि उसे कोरोना हुआ है। प्लान के मुताबिक, सांता क्लॉज ने लोगों के साथ समय बिताया और उनका हालचाल भी पूछा। इसके बाद वे जाने से पहले सभी लोगों को अपने हाथों से गिफ्ट भी दिए। बाद में सांता क्लॉज बीमार पड़ा गया और उसका कोरोना टेस्ट (Corona Test) करवाया गया जिसमें जांच की रिपोर्ट पॉज़िटिव (Positive) आई। इसके बाद केयर होम में मौजूद लोग बीमार पड़ने लगे, सबका टेस्ट करवाया गया जिसमें 121 लोग सहित 36 स्टाफ मेंबर्स कोरोना पॉज़िटिव पाए गए। क्रिसमस से पहले आयोजित इस कार्यक्रम में अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है।  

बेल्जियम प्रशासन ने माना नियमों की अनदेखी हुई 

रिपोर्ट के मुताबिक, इस घटना के सामने आने के बाद बेल्जियम के स्थानीय प्रशासन ने माना है कि कोरोना के मद्देनज़र लागु नियमों की अनदेखी की गई। कोरोना पॉज़िटिव पाए गए लोगों का फिलहाल उपचार चल रहा है और ज़्यादातर लोगों को आइसोलेशन (Isolation) में रखा गया है। प्रशासन (Administration) ने कहा है कि, ‘इस घटना के बाद अगले 10 दिन बेहद मुश्किल भरे हैं।’