Sensex up over 300 points in early trade, Nifty above 17,150-mark
File Photo

    मुंबई: शेयर बाजारों में बुधवार को लगातार चौथे दिन गिरावट रही और बीएसई सेंसेक्स 214.85 अंक और नीचे आ गया। भारतीय रिजर्व बैंक के नीतिगत दर में 0.50 प्रतिशत की वृद्धि के बाद बाजार नीचे आया। विदेशी संस्थागत निवेशकों की पूंजी निकासी जारी रहने और कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से भी बाजार पर असर पड़ा। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 214.85 अंक यानी 0.39 प्रतिशत की गिरावट के साथ 54,892.49 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान मानक सूचकांक ऊंचे में 55,423.97 और नीचे में 54,683.30 अंक तक गया।  

    नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 60.10 अंक यानी 0.37 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16,356.25 अंक पर बंद हुआ। रिजर्व बैंक की छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समिति ने मुद्रास्फीति को काबू में लाने के लिये बुधवार को रेपो दर में 0.5 प्रतिशत की वृद्धि की। इससे मकान, वाहन और अन्य कर्ज की मासिक किस्त यानी ईएमआई बढ़ेगी। सेंसेक्स के शेयरों में भारती एयरटेल, आईटीसी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, एशियन पेंट्स, इंडसइंड बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा में प्रमुख रूप से गिरावट रही।  

    दूसरी तरफ, लाभ में रहने वाले शेयरों में टाटा स्टील, भारतीय स्टेट बैंक, डॉ. रेड्डीज, बजाज फाइनेंस, टीसीएस और टाइटन शामिल हैं। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजयकुमार ने कहा, ‘‘आरबीआई ने 2022-23 के लिये आर्थिक वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत और मुद्रास्फीति 6.7 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है। यह बताता है कि मौद्रिक नीति वास्तविकताओं पर आधारित है। मुद्रास्फीति का अधिक अनुमान यह दर्शाता है कि केंद्रीय बैंक महंगाई को लेकर काफी गंभीर है। रेपो दर में 0.50 प्रतिशत की वृद्धि यह संदेश देती है कि वे बढ़ती मुद्रास्फीति को काबू में लाने को प्रतिबद्ध हैं।”  

    उन्होंने कहा, ‘‘गवर्नर का यह बयान कि अर्थव्यवस्था मजबूत बनी हुई है और पुनरुद्धार गति पकड़ रहा है, बाजार के नजरिये से उत्साहजनक है।” एशिया के अन्य बाजारों में चीन में शंघाई कंपोजिट, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग बढ़त में रहे जबकि दक्षिण कोरिया का कॉस्पी नुकसान में रहा। यूरोप के प्रमुख बाजारों में दोपहर के कारोबार में गिरावट का रुख था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.93 उछलकर 121.69 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजारों के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 2,293.98 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे। (एजेंसी)